क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : राजधानी में 15 हजार से अधिक लोगों का सेलेक्शन प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत किया गया था. इनमें सें बहुतों ने तो नगर निगम के साथ कांट्रैक्ट कर अपने घर का निर्माण करा लिया. वहीं कई लोगों का काम अंतिम चरण में है. लेकिन 1200 लाभुक खेल कर रहे हैं. इन्होंने पैसे लेने के बाद भी काम शुरू नहीं कराया. ऐसे लाभुकों का कांट्रैक्ट कैंसिल करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. इनकी इस चालाकी पर इनके खिलाफ एफआईआर भी कराया जाएगा. ये ऐसे लाभुक हैं जिनको नगर निगम ने पहली किस्त भी जारी कर दी थी.

अपील का भी नहीं हुआ असर

नगर निगम के अधिकारियों ने वार्डो में कैंप लगाकर इन लाभुकों से घर बनाने के लिए अपील भी की थी. इन लाभुकों के खाते में निगम से पहली किस्त भेज दी गई थी. इसके बाद भी इन्होंने फाउंडेशन का काम भी शुरू नहीं कराया. जिसके बाद नगर निगम से नोटिस भी भेजा गया. लेकिन लाभुकों ने नोटिस को भी अनदेखा कर दिया. दरअसल अब नगर निगम के अधिकारियों पर भी काम नहीं शुरू कराने का आरोप लग रहा है. इसलिए वे एक्शन मोड में आ गए हैं. अगले हफ्ते से इन लाभुकों का कांट्रैक्ट कैंसिल किया जाएगा.