नई दिल्ली (एएनआई)। करतारपुर साहिब कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह में शामिल होने के लिए पाकिस्तान ने आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर को आमंत्रित किया है। यह कॉरिडोर पंजाब के गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक गुरुद्वारा को पाकिस्तान के करतारपुर में दरबार साहिब के साथ जोड़ेगा। रविशंकर को भेजे गए निमंत्रण पत्र में लिखा है, 'करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन और धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देना भी हिंसा मुक्त विश्व के आपके उद्देश्य के साथ मेल खाता है।' करतारपुर कॉरिडोर शनिवार को खुलने वाला है और इस अवसर को चिह्नित करने के लिए दोनों देशों ने समारोह आयोजित किए हैं।

करतारपुर साहिब जाने के लिए केवल चाहिए पाकिस्तान का परमिट

तीन किमी का कॉरिडोर सिख तीर्थयात्रियों को करतारपुर में ऐतिहासिक गुरुद्वारा दरबार साहिब तक बिना वीजा के जाने की अनुमति देगा, जहां 1539 में गुरु नानक देव का निधन हो गया था। करतारपुर साहिब जाने के लिए तीर्थयात्रियों को केवल परमिट प्राप्त करना होगा। भारत में भी कॉरिडोर के लिए उद्घाटन समारोह शनिवार को ही आयोजित किया गया है। करतारपुर कॉरिडोर की आधारशिला 26 नवंबर, 2018 को भारत में रखी गई थी। इसके दो दिन बाद पाकिस्तानी की ओर से आधारशिला रखी गई।

Kartarpur Corridor: सिद्धू को मिली पाक में उद्धाटन समारोह में शामिल होने की मंजूरी

तीर्थयात्रियों को दी जाएगी हर तरह की सुविधाएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को पंजाब के गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा नानक के करतारपुर कॉरिडोर में अत्याधुनिक यात्री टर्मिनल भवन (पीटीबी) परिसर का उद्घाटन करेंगे। इस भवन में पाकिस्तान में गुरुद्वारा करतारपुर साहिब जाने के इच्छुक तीर्थयात्रियों के लिए हर तरह की सुविधाएं उपलब्ध होंगी।सिख धर्म के संस्थापक, गुरु नानक देव के अनुयायियों की आकांक्षाओं और धार्मिक भावनाओं को ध्यान में रखते हुए इस भवन के डिजाइन और गुणवत्ता मानकों को तैयार किया गया है। पीटीबी कॉम्प्लेक्स का डिजाइन प्रतीक 'खंडा' से प्रेरित है जो एकता और मानवता के मूल्यों का प्रतिनिधित्व करता है। कॉम्प्लेक्स में कियोस्क, तीर्थयात्रियों के रहने के लिए कमरे और पार्किंग स्थान भी उपलब्ध होंगे।

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk