इस्लामाबाद (आईएएनएस)। पाकिस्तान में पॉपकॉर्न बेचने वाले एक व्यक्ति ने एक छोटा सा प्लेन बनाया है। इस प्लेन को उड़ाने के लिए 30 वर्षीय मुहम्मद फयाज अब पाकिस्तानी नागरिक उड्डयन मंत्रालय (सीएए) की इजाजत का इंतजार कर रहे हैं। बता दें कि 31 मार्च को ही फयाज ने अपने द्वारा बनाये गए प्लेन का सफलतापूर्वक ट्रायल कर लिया था  लेकिन सीएए की अनुमति नहीं होने के चलते पुलिस ने उन्हें रोक दिया और प्लेन को भी जब्त कर लिया। हालांकि, बाद में चार अप्रैल को उन्हें उनका प्लेन लौटा दिया गया। नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने फयाज के कौशल और जज्बे की खूब सराहना की है। इसके साथ उन्हें प्लेन ठीक तरह से बनाकर उड़ाने में सभी जरूरी सहायता देने की भी बात कही है।

सिर्फ 90 हजार में बनाया प्लेन

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में रहने वाले फयाज ने बचपन में ही एयरफोर्स पायलट बनने और हवाई जहाज उड़ाने का सपना देखा था लेकिन गरीबी के कारण उन्हें हाईस्कूल की पढ़ाई भी छोड़नी पड़ी। मीडिया रिपोट्स के मुताबिक, प्लेन को तैयार करने के लिए उन्होंने अपनी जमीन तक बेच दी और बैंक से कर्ज भी लिया। प्लेन को बनाने में कुल 90 हजार का खर्चा आया है। बता दें कि फयाज ने प्लेन बनाने के लिए कोई भी ट्रेनिंग नहीं ली है। नेशनल जियोग्राफिक चैनल पर आने वाले शो 'एयर क्रैश इंवेस्टीगेशन' से उन्होंने प्लेन के डिवाइसों के बारे में सीखा।

एक साल पहले उड़ाया था प्लेन

फयाज ने बताया कि एक साल पहले छोटे इंजन के साथ उन्होंने प्लेन को अपने गांव के चारों तरफ उड़ाया। इसके लिए किसी से अनुमति नहीं ली गई थी। बाद में उन्होंने पुलिस और सुरक्षा एजेंसी से अनुमति मांगी लेकिन कोई जवाब नहीं मिला।

पाकिस्तान की बढ़ी मुश्किलें, IMF के बेलआउट पैकेज को लेकर अमेरिकी सांसदों ने किया विरोध


बाॅलीवुड साॅन्ग गाने पर पाकिस्तानी क्रिकेटर को PCB ने लगाई फटकार

 देसी जुगाड़ से यात्रियों के लिए सस्ता प्लेन बना सकते हैं फयाज
फयाज के प्लेन की खासियत है कि उसने इसकी बॉडी को अल्यूमीनियम से बनाया है जबकि इसके डैने के तौर पर उनसे लकड़ी के पल्लों का इस्तेमाल किया है। फयाज ने अपनी उपलब्धि को पाक को समर्पित करते हुए कहा है कि वह चाहते हैं कि एफ- 16 जैसा फाइटर जेट उड़ाने वाले पायलट बनें और देश की सेवा करें। साथ ही, उन्होंने दावा किया है कि वह देसी जुगाड़ के जरिए सस्ते प्लेन बनाकर लोगों के एयर ट्रैवल का सपना पूरा कर सकते हैं और सरकार से उन्होंने मदद की गुजारिश भी की है।

 

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk