मंगलवार रात 10 बजे शुरू हुई मोबाइल इंटरनेट सेवा

हिंसा के बाद सोमवार रात बंद की थी सेवा

Meerut. एससी एसटी कानून में संशोधन के खिलाफ सोमवार को हुए प्रदर्शन और हिंसा के बाद मंगलवार को शहर में मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद रही. इस कारण लोग परेशान दिखे. वहीं मोबाइल इंटरनेट सेवाओं के जरिए ऑनलाइन काम करने वाले लोगों को भी परेशानी झेलनी पड़ी.

रुका व्हाट्सऐप बिजनेस

मोबाइल इंटरनेट बंद होने से सबसे ज्यादा परेशानी व्हाट्सऐप बिजनेस से जुड़ी महिलाओं को हुई. दिनभर काम-काम ठप पड़ा रहा. इस दौरान ऑनलाइन कारोबार से जुड़े लोग भी परेशान दिखे. इसके अलावा एग्जाम देने वाले छात्रों को भी काफी परेशानी हुई. ऑनलाइन नोट्स नहीं देख पाएं, इसके अलावा जरूरी अपड्ेट्स भी नहीं मिले.

नेट पर टिकी रही निगाहें

सोमवार रात बंद हुए नेट के चालू होने के इंतजार में मंगलवार को लोगों की निगाहें लगातार मोबाइल के इंटरनेट आइकन पर ही टिकी रही. हालांकि, दोपहर दो बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद रहने की सूचना थी. दो बजते ही लोगों ने मोबाइल टटोलना शुरू कर दिया. हालांकि इंटरनेट सेवा मंगलवार रात 10 बजे शुरू हो सकी.

इंटरनेट बंद होने से काफी दिक्कत हुई है. सोशल मीडिया पर ऑनलाइन बिजनेस ठप हो गया. काफी नुकसान भी हुआ है.

उपासना सिंह

एग्जाम चल रहे हैं. हमें पता ही नहीं था कि नेट ऐसे बंद हो जाएगा. ऑनलाइन नोट्स से पढ़ाई करते हैं. पढ़ाई भी नहीं हो पाई.

मोहित

सोशल मीडिया बंद हो गया. थोड़ा सा आराम जरूर मिला, लेकिन बहुत से जरूरी काम अटक गए . ईमेल आदि के बिना काफी परेशानी हुइर्1.

प्रिया

बच्चों की ऑनलाइन फीस जमा करनी थी, जो बिना इंटरनेट नहीं हुई. बिना इंटरनेट काफी परेशानी हो गई. ऐसे लगा जैसे सब कुछ रूक सा गया हो.

कल्पना