पुलिस टीम पर किया हमला, सीओ मेजा व कोरांव इंस्पेक्टर सहित कई घायल

सर्राफा शॉप में घुसकर एसडीएम सहित अन्य अफसरों ने बचाई जान

PRAYAGRAJ: पिटाई से घायल रमेश कुमार उर्फ पिंटू (35) की शुक्रवार को मौत हो गई. इस सूचना से परिवारवालों के साथ स्थानीय लोग उबल पड़े. उन्होंने सीधे पुलिस को निशाने पर लिया और आरोप लगाया कि पुलिस के चलते ही युवक की जान गयी है. अफसरों को मौके पर बुलाने की मांग को लेकर उन्होंने चक्काजाम कर दिया. मौके पर पहुंचे अफसरों ने अरदब दिखाने की कोशिश की तो पब्लिक भड़क गयी. नतीजा सीओ और इंस्पेक्टर समेत कई चोटिल हो गये. एसडीएम व अन्य अफसरों को दुकान म्ें घुसकर जान बचानी पड़ गयी.

नौ को हुआ हमला 11 को मौत

सेमरिया निवासी रमेश कुमार उर्फ पिंटू नौ अक्टूबर को बाइक से कोरांव बाजार गया था. रात करीब साढ़े नौ बजे लौटते समय तरांव के पास कुछ लोगों ने उस पर हमला बोल दिया. पिटाई से वह गंभीर रूप से घायल हो गया. संयोगवश उधर से लौट रहे पड़ोसी राम बहादुर व अजय की नजर उस पर पड़ गई. कराह रहे रमेश को लेकर दोनों उसके घर पहुंचे. रमेश ने सारी जानकारी परिजनों को दी. घर वाले उसे इलाज के लिए अस्पताल ले गए. मरहम पट्टी के बाद सभी गुरुवार सुबह थाने पहुंचे और पुलिस को तहरीर दिए. एनसीआर दर्ज कर पुलिस ने मेडिकल के लिए भेज दिया. मेडिकल कराकर लौटे रमेश की हालत देर रात खराब हो गई. यह देख उसे शहर के निजी हॉस्पिटल में एडमिट किया गया. हॉस्पिटल में शुक्रवार सुबह उसकी मौत हो गई.

अफसरों को बुलाने की मांग पर जाम

बॉडी लेकर पहुंचे लोगों ने बॉडी सड़क पर रखकर जाम लगा दिया. उनकी मांग थी कि कुछ दिन पूर्व मृतक के भाई पर दर्ज मुकदमा वापस लिया जाय और अफसरों को मौके पर बुलाया जाय. खबर सुनते ही एसडीएम कोरांव संदीप वर्मा, सीओ मेजा सही राम आर्य, मेजा व मांडा की फोर्स के साथ मौके पर जा पहुंचे. कोरांव इंस्पेक्टर अवन कुमार दीक्षित पहले ही मौजूद थे. अधिकारियों व फोर्स को देखते ही लोगों ने उन पर हमला बोल दिया.

सीओ को लगी ईट से चोट

देखते ही देखते वह पथराव शुरू कर दिए. ईट लगने से सीओ मेजा घायल हो गए. हमले में कोरांव इंस्पेक्टर व मांडा थाने के इंस्पेक्टर प्रिंस दीक्षित को भी चोटें आई. यह देख एसडीएम व अन्य अफसर चौराहे पर स्थित सर्राफा की दुकान में भाग कर शटर बंद कर लिए. हिमाकत दिखाते हुए लोग बंद शटर पर पथराव करते रहे. अंदर से एसडीएम ने खबर अफसरों को दी. फिर भारी फोर्स के साथ एसएसपी खुद मौके पर पहुंचे और स्थिति पर काबू पाए.

हमलावरों की पिटाई से घायल युवक की हॉस्पिटल में मौत के बाद लोग रोड पर जाम लगाए हुए थे. पुलिस पहुंची तो लोगों ने हमला कर दिया. सभी को समझा बुझा कर शांत कराने के बाद शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. सीओ मेजा व अन्य जवानों को चोटें आई हैं. हमलावरों के खिलाफ भी सीसीटीवी फुटेज के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी.

सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज,

एसएसपी प्रयागराज