- फायरिंग में प्रधान समेत दो लोगों की मौत हो गई थी

- इलाज खत्म होते ही लिखा पढ़ी कर आरोपी को भेजा जेल

NAINI (7 Jan,JNN): औद्योगिक क्षेत्र थाना अन्तर्गत पिपरांव गांव में 20 दिसम्बर रविवार दोपहर बाद जमकर हुई फायरिंग में प्रधान समेत दो लोगों की मौत हो गई थी. घटना के बाद दोनों पक्ष की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया था. इस मामले में मनइया गांव के अमरनाथ द्विवेदी और पिपरांव के पवन सिंह को पुलिस ने पहले ही जेल भेज दिया था.

20 दिसम्बर को चली थी गोली

औद्योगिक क्षेत्र के पिपरांव गांव में 20 दिसम्बर रविवार दोपहर बाद एक प्लाट के विवाद में दो पक्षों के बीच जमकर गोलियां चली थी. इसमें ग्राम प्रधान चटकहना लवायन खुर्द के प्रधान विजय तिवारी और पिपरांव के प्रापर्टी डीलर संतोष कुमार सिंह उर्फ संतू की मौत हो गई थी. जबकि इस घटना में प्रधान का भाई विकास तिवारी उर्फ गांधी घायल था. दोनों पक्षों ने एक दूसरे के खिलाफ क्रास एफआईआर दर्ज कराई थी. घटना के बाद मौके से पुलिस ने अमरनाथ नाथ द्विवेदी की टवेरा और मृतक संतोष की बुलेट घटना स्थल से बरामद करने का दावा किया था.

आरोपी को भेजा जेल

जांच में जुटी पुलिस ने घटना के चश्मदीद और मुकदमे में अज्ञात आरोपी के रूप में दर्ज अमर नाथ द्विवेदी की पहचान करते हुए उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. इसके बाद मृतक संतोष सिंह उर्फ संतू के बड़े भाई पवन सिंह की गिरफ्तारी के लिए दबाव बनाया. जिसपर उसने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया. औद्योगिक क्षेत्र थाने की पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. गुरूवार को इस घटना में आरोपी बनाए गये मृतक विजय तिवारी के चचेरे भाई विकास तिवारी उर्फ गांधी को भी इलाज पूरा होने के बाद जेल भेज दिया.