-प्रधानमंत्री के गुजरने के आधे घंटे पहले बंद कर दी जा रही थी ट्रैफिक

-कॉरिडोर को जाने वाली सभी गलियां थी सील

varanasi@inext.co.in

VARANASI : अपने संसदीय क्षेत्र के 19वें दौरे पर आए पीएम मोदी की सिक्योरिटी इस बार कुछ ज्यादा ही सख्त थी. पहरा इतना सख्त था कि पीएम पुलिस लाइन स्थित हेलीपैड पर पहुंचे तो श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर एरिया की सड़क ब्लॉक कर दी गई थी. गलियों पर बैरियर लगाकर मेन रोड का रास्ता रोक दिया गया था. पैदल चलने तक पर मनाही थी. यहां तक की बाबा दरबार में पीएम की मौजूदगी के दौरान मंदिर में आमजनों के दर्शन-पूजन को रोक दिया गया था. भाजपा कार्यकर्ताओं को भी बैरिकेडिंग के पार नहीं होने दिया गया. मंदिर परिसर के आसपास मकानों पर शस्त्र के साथ जवान मुस्तैद रहे. उधर, बड़ा लालपुर स्थित दीनदयाल हस्तकला संकुल में भी आमजनों के आवागमन पर पाबंदी थी. महिला दिवस पर महिलाओं से संवाद कार्यक्रम में पहुंचने वालों को पास जारी किया गया था. ए, बी व सी ब्लॉक बनाए गए थे. सी ब्लॉक में प्रवेश के लिए दो स्थानों पर चेकिंग की जा रही थी. मेटल डिटेक्टर डोर से होकर नहीं गुजरने वालों की इंट्री पर बैन थी.

 

एसपीजी में महिला सदस्य भी

महिलाओं के साथ पीएम के संवाद कार्यक्रम को देखते हुए इस बार एसपीजी में महिला सदस्यों को भी शामिल किया गया था. उनकी संख्या आधा दर्जन थी जिनके सहयोग में एलआईयू की चार दरोगा भी तैनात की गई थीं.

 

सेल्फी लेने पर एसपीजी नाराज

श्रीकाशी विश्वनाथ कॉरिडोर के शिलान्यास को जब पीएम नरेंद्र मोदी पहुंचे तो उनकी सेल्फी लेने की कोशिश की गई जिसे देखकर संबंधित पुजारी पर एसपीजी नाराज हो गई. पुलिस कर्मियों के सहयोग से उसे खोजा गया लेकिन बाद में मंदिर प्रशासन की ओर से भरोसा देने पर मामला शांत हुआ.

 

मिनट-टू-मिनट पीएम का कार्यक्रम

-8.15 बजे सुबह बाबतपुर एयरपोर्ट

-8.34 बजे सुबह नगर के लिए रवाना

-8.44 बजे सुबह पुलिस लाइन मैदान

-9.05 बजे सुबह लहुराबीर चौराहा

-9.13 बजे सुबह बाबा दरबार

-9.29 बजे सुबह कॉरिडोर शिलान्यास

-10.07 बजे सुबह बाबा दरबार से निकले

-10.16 बजे सुबह लहुराबीर चौराहा क्रास किया

-10.22 बजे सुबह पुलिस लाइन मैदान

-10.31 बजे सुबह टीएफसी के लिए रवाना

-10.47 बजे सुबह टीएफसी पहुंचे

-12.18 बजे दोपहर टीएफसी से रवाना हुए