बैंकॉक (एएनआई)। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को थाईलैंड में आयोजित Sawasdee PM Modi कार्यक्रम में भारतीय समुदाय को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा, 'इस कार्यक्रम में भारतीय समुदाय को संबोधित करने के लिए, मैं आज आप सभी के बीच थाईलैंड में हूं। लेकिन मुझे नहीं लगता कि मैं किसी विदेशी भूमि में हूं। यहां का माहौल, पोशाक, सब कुछ मुझे घर जैसा महसूस कराता है।' उन्होंने आगे कहा, 'भारत के लिए थाईलैंड के शाही परिवार की आत्मीयता, हमारे गहरे मैत्रीपूर्ण और ऐतिहासिक संबंधों का प्रतीक है। राजकुमारी महा चक्रि सिरिंधोर संस्कृत भाषा की विशेषज्ञ हैं और संस्कृति में उनकी गहरी रुचि है।'


भावनाओं के आधार पर एक-दूसरे के बहुत करीब हैं भारत और थाईलैंड
पीएम मोदी ने Sawasdee PM Modi कार्यक्रम में कहा, 'हम सौभाग्यशाली हैं कि भारत ने राजकुमारी महा चक्रि सिरिंधोर को पद्म भूषण पुरस्कार और संस्कृत सम्मान के माध्यम से अपना आभार प्रकट किया।' उन्होंने कहा कि हम (भारत और थाईलैंड) न केवल भाषा के आधार पर बल्कि भावनाओं के आधार पर भी एक-दूसरे के बहुत करीब हैं। पीएम मोदी ने कहा, 'आपने मुझे 'सवसदी मोदी' कहा है, इसका संस्कृत शब्द 'स्वस्ति' से संबंध है जिसका अर्थ है कल्याण।' उन्होंने कहा कि भारत और थाईलैंड का संबंध किसी विशेष सरकार के कारण नहीं है। इस संबंध के लिए किसी भी सरकार को श्रेय नहीं दिया जा सकता है। अतीत में दो देशों के बीच साझा किए गए हर पल ने इस संबंध को बनाया और मजबूत किया।

 

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk