नई दिल्ली (एएनआई)। देश में आज मंगलवार को भारतीय जनसंघ के संस्थापक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की 120वीं जयंती मनाई जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी श्यामा प्रसाद मुखर्जी को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया मैं डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी को उनकी जयंती पर नमन करता हूं। उनके आदर्श देश भर में लाखों लोगों को प्रेरित करते हैं। डॉक्टर मुखर्जी ने अपना जीवन भारत की एकता और प्रगति के लिए समर्पित कर दिया। उन्होंने खुद को एक असाधारण विद्वान और बुद्धिजीवी के रूप में भी प्रतिष्ठित किया। वहीं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने भी उन्हें याद किया।


गृहमंत्री शाह ने डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी को किया नमन
गृहमंत्री शाह ने ट्वीट किया कि &एक राष्ट्र, एक निशान, एक विधान&य के प्रणेता डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी के लिए देशहित से ऊपर कुछ नहीं था। भारत की अखंडता के लिए उनके बलिदान और संघर्ष ने कश्मीर और बंगाल को देश का अभिन्न अंग बनाए रखा। डॉक्टर मुखर्जी राष्ट्र पुनर्निर्माण में स्वदेशी नीतियों के दृढ़ समर्थक थे। डॉक्टर मुखर्जी ने अपनी दूरदर्शी सोच से देश में शिक्षा, स्वास्थ्य व औद्योगिक विकास की मजबूत नींव रखने और सामरिक दृष्टि से भारत को सशक्त बनाने में अहम योगदान दिया। उनके सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के विचार चिरकाल तक प्रासंगिक रहेंगे। ऐसे अप्रतिम राष्ट्रनायक की जयंती पर उन्हें कोटिशः नमन।
यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने अर्पित की श्रद्धांजलि
इसके अलावा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ ने भी डाॅक्टर प्रसाद मुखर्जी को नमन करते हुए ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि मां भारती के अमर सपूत, भारत की एकता, अस्मिता व अखंडता हेतु अपने प्राणों का बलिदान देने वाले प्रखर राष्ट्रवादी राजनेता व विचारक, महान शिक्षाविद्, जनसंघ के संस्थापक अध्यक्ष तथा हमारे पथ प्रदर्शक श्रद्धेय डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी की जयंती पर उनकी पावन स्मृतियों को कोटिशः नमन। बता दें कि डाॅक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी (1901-1953), जो एक राजनीतिज्ञ, बैरिस्टर और शिक्षाविद थे, ने प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के मंत्रिमंडल में उद्योग और आपूर्ति मंत्री के रूप में कार्य किया।

National News inextlive from India News Desk