नई दिल्ली (आईएएनएस)। विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दूसरे कार्यकाल की पहली विदेश यात्रा में मालदीव और श्रीलंका का दौरा करेंगे। सबसे पहले पीएम मोदी 8 जून यानी कि शनिवार को मालदीव पहुंचेंगे और यहां के बाद वह 9 जून को श्रीलंका का दौरा करेंगे। विदेश सचिव विजय गोखले ने बताया कि सरकार अपने पड़ोसी मुल्क को प्राथमिकता देना चाहती है, यही सोचकर सबसे पहले इन दोनों देशों को पीएम मोदी की यात्रा के लिए चुना गया है। गोखले ने कहा, '2011 में तत्कालीन पीएम मनमोहन सिंह ने मालदीव का दौरा किया था, इसके बाद अब पीएम मोदी यहां पहली बार पहुंचेंगे।'

संसद को करेंगे संबोधित

गोखले ने बताया कि पिछले महीनों में भारत और मालदीव के बीच बड़े स्तर पर व्यापक आदान प्रदान हुए हैं। मोदी की यात्रा के दौरान, दोनों देशों के बीच कस्टम्स, वाइट शिपिंग, सिविल सर्वेंट की ट्रेनिंग और इनसे जुड़ी कई अन्य समझौतों पर हस्ताक्षर होने की संभावना है। गोखले ने कहा, 'मोदी 8 जून को मजलिस (मालदीव की संसद) को संबोधित करेंगे। वह, मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सोलीह के साथ दो पूरे हो चुके परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे। सोलीह ने मालदीव में एक क्रिकेट टीम बनाने में अपनी रुचि व्यक्त की थी और वह इसकी ट्रेनिंग के लिए भारत की सहायता चाहते हैं। इस अनुरोध को सरकार ने स्वीकार कर लिया है। भारत यहां एक स्टेडियम बनाने की तैयारी भी कर रहा है।'

चुनाव जीतने के बाद जनता का धन्यवाद करने पीएम मोदी पहुंचे वाराणसी, तस्वीरों में देखें उनकी काशी यात्रा


बम धमाके के बाद पीएम मोदी की यह पहली यात्रा

मालदीव के दौरे के बाद प्रधानमंत्री मोदी 9 जून को श्रीलंका का दौरा करेंगे। गोखले ने बताया, 'श्रीलंका में सीरियल बम ब्लास्ट के बाद भारतीय प्रधानमंत्री की देश में यह पहली यात्रा होगी। यहां पीएम मोदी स्पष्ट संदेश देंगे कि भारत के लोग और सरकार इस दुखद समय में श्रीलंका की जनता और सरकार के साथ मजबूती से खड़े हैं।'

National News inextlive from India News Desk