छ्वन्रूस्॥श्वष्ठक्कक्त्र: लगभग दो साल की प्रतीक्षा के बाद जमशेदपुर महिला विश्वविद्यालय धरातल पर उतर रही है. इस विश्वविद्यालय के भवन निर्माण कार्य का शिलान्यास रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी श्रीनगर से करेंगे. प्रधानमंत्री कुल 3000 करोड़ रुपये की 151 शैक्षणिक योजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन ऑनलाइन करेंगे. इसके लिए मुख्य समारोह शेर-ए-कश्मीर इंटरनेशनल कान्वेंशन सेंटर में आयोजित किया गया है. वीमेंस यूनिवर्सिटी के भवन निर्माण की कुल लागत इसकी कुल लागत 89.2622 करोड़ रुपये हैं. विश्वविद्यालय के भवन के पूरा निर्माण सिदगोड़ा में होना है. बिष्टुपुर स्थित जमशेदपुर महिला कॉलेज को अपग्रेड करते हुए जमशेदपुर महिला विश्वविद्यालय का प्रस्ताव झारखंड विधानसभा से भी 27 दिसंबर को पारित हो गया था.

22 एकड़ में बनेगा महिला विवि

जमशेदपुर महिला विश्वविद्यालय की स्थापना 22 एकड़ में होगी. इसके लिए सिदगोड़ा सूर्य मंदिर के बगल में मूल कैंपस बनेगा. दूसरा कैंपस जमशेदपुर महिला महाविद्यालय में रहेगा. महिला विश्वविद्यालय की स्थापना में केंद्र व राज्य का हिस्सा है. राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान (रुसा) की 11वीं बैठक में जमशेदपुर महिला विश्वविद्यालय का प्रस्ताव आठ फरवरी 2017 को स्वीकृत हुआ था.

चार राज्यों का पहला महिला विश्वविद्यालय

जमशेदपुर महिला विश्वविद्यालय चार राज्यों का पहला महिला विश्वविद्यालय होगा. इसमें झारखंड के अलावा ओडिशा, बिहार व पश्चिम बंगाल की छात्राएं पढ़ सकेगी. इन राज्यों में कोई महिला विश्वविद्यालय नहीं है.

अधिसूचना के बाद अस्तित्व में आयेगा महिला विवि

विधानसभा से महिला विवि का प्रस्ताव पारित होने के बाद राजभवन इसकी अधिसूचना जारी करेगा. अधिसूचना जारी होने के बाद इस विश्वविद्यालय के कुलपति की नियुक्ति भी होनी है. उसके बाद यह विश्वविद्यालय पूर्ण रूप से अस्तित्व में आयेगा.

किया समारोह स्थल का निरीक्षण

प्रधानमंत्री द्वारा वीमेंस यूनिवर्सिटी के शिलान्यास समारोह को लेकर रविवार को उच्च शिक्षा सचिव राजेश शर्मा उपायुक्त अमित कुमार व एसएसपी अनूप बिरथरे ने स्थल का जायजा लिया. श्रीनगर से जमशेदपुर की कनेक्टिविटी को देखा. कनेक्टिविटी को सही पाया. शनिवार की शाम को पहुंचे उच्च शिक्षा सचिव ने बताया कि प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को लेकर सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है. रुसा के स्टेट नोडल ऑफिसर डॉ. शंभू दयाल सिंह, कोल्हान विवि की कुलपति प्रोफेसर डॉ. शुक्ला माहांती, कॉलेज की प्राचार्य डॉ. पूर्णिमा कुमार ने भी समय-समय पर समारोह का स्थल का जायजा लिया.

अभी सिर्फ जमशेदपुर महिला विवि के भवन निर्माण कार्य का शिलान्यास होना है. विश्वविद्यालय को पूर्ण रूप से अस्तित्व में आने में समय लगेगा. इसके लिए राजभवन की ओर से अधिसूचना भी जारी होनी है.

-राजेश शर्मा, सचिव, उच्च, तकनीकी शिक्षा व कौशल विकास, झारखंड सरकार