- संडे रात फरीदापुर चौधरी में आरोपियों को पकड़ने गए थे एसआई और कांस्टेबल

- महिलाओं ने मचाया शोर, आक्रोशित ग्रामीणों ने किया पथराव

bareilly@inext.co.in
BAREILLY :
गौकशी की सूचना पर संडे रात फरीदापुर चौधरी गांव में दबिश देने गई इज्जतनगर पुलिस पर तस्करों ने हमला कर दिया. पुलिस ने एक तस्कर को पकड़ भी लिया, लेकिन घर में मौजूद महिलाओं ने शोर मचाकर ग्रामीणों को इकट्ठा कर लिया और एसआई और कांस्टेबल पर पथराव कर दिया. भीड़ ने मारपीट कर उनकी वर्दी भी फाड़ दी.

 

कई थानों की फोर्स ने संभाला मोर्चा

इज्जतनगर इंस्पेक्टर केके वर्मा को संडे देर रात सूचना मिली कि फरीदापुर चौधरी में तस्करी कर दो गाय लाई गई हैं, जिन्हें तस्कर काटने की तैयारी में हैं. इसी दौरान पुलिस को पता चला कि गोकशी के मामले में फरार अन्नी उर्फ अनीस अपने घर में गोकशी करने वाला है. इसके बाद एसआई सुनील शर्मा व अखिल चौधरी कई सिपाहियों के साथ फरीदापुर चौधरी गांव पहुंचे और अन्नी के घर दबिश देकर उसे दबोच लिया लेकिन उसके साथी भाग निकले. अन्नी को पुलिस ने पकड़ा तो घर में मौजूद महिलाएं पुलिस से भिड़ गई और शोर मचा दिया, जिसके बाद कई ग्रामीण भी तस्करों के पक्ष में आ गए. भीड़ ने पुलिसकर्मियों व एसआई को पीटना शुरू कर दिया. जानकारी मिलने पर इंस्पेक्टर केके वर्मा कई थानों की फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और भीड़ पर लाठियां फटकार कर खदेड़ दिया. इसके बाद वह अन्नी समेत दो गाय थाने लेकर आए.

 

घर में करता था गोकशी

पुलिस की मानें तो अन्नी पर कई मुकदमे दर्ज हैं. वह गोकशी के एक मामले में फरार था. कोर्ट ने उसके खिलाफ वारंट जारी किया था. संडे को पुलिस को सूचना मिली कि वह घर पर है और गोकशी करने वाला है. जिसके बाद पुलिस ने दबिश दी.

 

जेल से छूटने के बाद फिर तस्करी

इज्जतनगर के कई गांवों में बड़े पैमाने पर पशु तस्करी के साथ कटान की सूचना अक्सर मिलती रहती थी. कई बार पुलिस ने तस्करों को गौकशी करते पकड़कर जेल भी भेजा था. उसके बाद भी तस्कर जेल से छूटते ही फिर से तस्करी में लग जाते हैं.

 

एसआई की हो चुकी हत्या

पशु तस्कर पहले भी पुलिस पर हमले करते रहे हैं. इज्जतनगर के अहलादपुर में पुलिस जीप पर पशु तस्करों के ट्रक चढ़ाने की कोशिश का मामला रहा हो या फिर दारोगा मनोज मिश्रा की गोली मारकर हत्या का. यहां तक फतेहगंज पश्चिमी में पिछले साल गो तस्करों ने सिपाही की कुचल कर हत्या कर दी थी. उसके बाद भी तस्करों के खिलाफ सख्त कार्रवाई नहीं हो पा रही है.

 

वर्जन

तस्कर समेत आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है. मुकदमा दर्ज कर फरार अन्य आरोपितों की तलाश और अन्य हमलावरों की पहचान कराई जा रही है.

अभिनंदन सिंह, एसपी सिटी