i follow up

-हत्या के पहले मोबाइल पर बात होने वाले नंबर से क्लू जुटाने में जुटी पुलिस

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: अधिवक्ता सुशील कुमार पटेल की हत्या के मामले में पुलिस की जांच फिलहाल जमीन विवाद की थियरी पर अटकी हुई है. इस बारे में पुलिस की अलग-अलग टीमों के साथ ही क्राइम ब्रांच और सर्विलांस सेल की टीमें भी हत्या के कारणों और हत्यारोपियों के बारे में जानकारी जुटाने में लगी हैं. हत्याकांड के बाद अभी तक पुलिस की जांच में जमीन को लेकर विवाद सामने आ रहा है. इसे देखते हुए पुलिस की टीम उससे जुड़े सभी तथ्यों की खंगालने में जुटी है. वहीं पुलिस की सर्विलांस टीम हत्याकांड के पहले अधिवक्ता के मोबाइल पर आने वाले सभी फोन कॉल की डिटेल खंगालने में जुटी है. इस दौरान पुलिस की तरफ से कई नम्बर चिन्हित करके उनके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है.

-----------

परिजनों को 20 लाख की मदद और 24 घंटे में हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग

PRAYAGRAJ: अधिवक्ता राजेश कुमार पटेल की रविवार की रात अज्ञात बदमाशों द्वारा गोली मारकर हत्या किए जाने के बाद सोमवार सुबह से ही कचहरी परिसर के आस-पास सुरक्षा के खास इंतजाम किए गए थे. इस दौरान दोपहर तक कचहरी की ओर वाहनों का आवागमन प्रतिबंधित था. दोपहर में अधिवक्ताओं ने जमकर प्रदर्शन और नारेबाजी की. इस दौरान अधिवक्ताओं का एक प्रतिनिधिमंडल डीएम आवास भी पहुंचा. जहां एडीएम सिटी अशोक कुमार कनौजिया और एसपी सिटी ने अधिवक्ताओं ने मुलाकात की. अधिवक्ताओं ने पीडि़त परिवार को 20 लाख रुपए मुआवजा और 24 घंटे के अंदर अधिवक्ता के हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग की. इसके बाद एडीएम सिटी ने अधिवक्ताओं को भरोसा दिलाया कि उनकी मांगें शीघ्र पूरी की जाएंगी, जिसके बाद अधिवक्ता शांत हुए.

न्यायिक कार्य से विरत रहे अधिवक्ता

वहीं संघ के अध्यक्ष उमाशंकर तिवारी व मंत्री मनोज कुमार सिंह लोकेश, कृष्णचन्द्र मिश्र ने संघ भवन पर सुबह 11 बजे संघ की कार्यकारिणी व संघ के सदस्यों की मीटिंग बुलाई गई. इसमें अधिवक्ता सुशील पटेल की हत्या के बाबत कड़ी निंदा की गई. सभा के बाद जुलूस भी निकाला गया. इसमें बार कौंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश के उपाध्यक्ष देवेन्द्र मिश्र नगरहा, पूर्व अध्यक्ष शीतला प्रसाद मिश्रा, राकेश कुमार त्रिपाठी, समीर त्रिपाठी, पूर्व मंत्री दिनेश श्रीवास्तव, हरि सागर मिश्र, अनिल कुमार तिवारी समेत अन्य लोगों ने घटना की घोर निंदा की. जिला अधिवक्ता संघ के मंत्री मनोज कुमार सिंह लोकेश के अनुसार 25 जून को 11 बजे पुन: मीटिंग होगी. यंग लॉयर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष अमिताभ दुबे, अतुल सिंह, भूपेश कुमार पाण्डेय, आदि ने बदमाशों द्वारा जिला न्यायालय के अधिवक्ता सुशील कुमार पटेल की हत्या पर गहरा शोक व्यक्त किया. समाजवादी जिला अधिवक्ता सभा के अध्यक्ष सुशील कुमार यादव के नेतृत्व में चौखंडी खम्भा के समीप विरोध प्रदर्शन करते हुए राज्य सरकार का पुतला दहन किया. इस दौरान सुशील सोनकर, अरुण निषाद, ओम प्रकाश यादव, पवन कुमार, अतुल, रमाशंकर मौजूद रहे.

एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू करने की मंाग

सेंट्रल एडमिनिस्ट्रेशन ट्रिब्यूनल बार एसोसिएशन की ओर से अधिवक्ता सुशील कुमार पटेल की हत्या पर शोक व्यक्त किया गया. कैट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष जितेन्द्र नायक ने सरकार से एडवोकेट प्रोटेक्शन एंड वेलफेयर एक्ट लागू करने की मांग की. इस मौके पर आशुतोष तिवारी, धर्मेन्द्र तिवारी, अभिनव त्रिपाठी समेत अन्य अधिवक्ता मौजूद रहे. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी की ओर से अधिवक्ता सुशील कुमार पटेल की हत्यारोपियों की गिरफ्तारी की मांग की गई. राष्ट्रीय जन समर्थन पाटी, प्रगतिशील समाज पार्टी की ओर से भी हत्याकांड की निंदा करते हुए पीडि़त परिवार की मदद करने की बात कही गई.

Posted By: Inextlive