मेरठ (ब्यूरो)। दीपावली के चलते सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट पर हैं। पाकिस्तानी नंबरों पर बातचीत करने वालों पर पैनी नजर रखी जा रही है। सर्विलांस का सहारा लेकर संदिग्धों को पुलिस उठा रही है। स्थानीय पुलिस भी अलर्ट मोड पर है। सुरक्षा एजेंसी के साथ-साथ इंटेलीजेंस का भी पूरा फोकस रहता है।  शहर में हो रही हर गतिविधि पर एजेंसियों की निगाहें रहती है।

पूछताछ के लिए उठाए

दो दिन पूर्व देहली गेट के पूर्वा फैय्याज अली के रहने वाला एक युवक पाकिस्तान में अपने परिवार के लोगों से बातचीत करता था। एटीएस लगातार निगाहें बनाए हुई थी, जिसको पूछताछ के लिए उठाया था। सही पाए जाने के बाद ही इंटेलीजेंस ने संदिग्ध को छोड़ा था। हाल ही में कैंट में केंद्रीय विद्यालय पंजाब लाइंस स्कूल के पास से आर्मी की क्यूआरटी टीम ने एक युवक को पकड़ा था। जिसके मोबाइल से पाकिस्तान के मोबाइल नंबर भी मिले थे। लिसाड़ी गेट क्षेत्र में रहने वाला यह युवक ई-रिक्शा चलाने का काम करता है। पाकिस्तान के व्हाट्सएप ग्रुप से भी संदिग्ध जुड़ा हुआ था। इसके खिलाफ कैंट बोर्ड अधिनियम के तहत रात में कैंट एरिया में घुमने का मुकदमा लालकुर्ती थाने में दर्ज कर जमानत पर छोड़ा गया था।

एनआईए भी एक्टिव

मेरठ में एनआईए की टीम भी आए दिन छापेमारी करती रहती है। मेरठ में आतंकी कनेक्शन को लेकर लगातार एनआईए का फोकस रहता है। एनआईए टीम शहर और देहात लगातार छापेमारी करती रहती है।

'त्योहारों के चलते अलर्ट किया गया है। संदिग्ध लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया जाता है। पूछताछ के बाद सही पाए जाने पर छोड़ दिया जाता है। सुरक्षा के लिए हम लगातार चेकिंग करते रहते हैैं।'

- अखिलेश नारायण सिंह, एसपी सिटी

- 26 दिसंबर, 2018 : आईएस मॉड्यूल से जुड़ा वैट हापुड़ निवाली मौलाना साकिब गिरफ्तार

- अक्टूबर, 2018 : मेरठ में पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाला फौजी कंचन गिरफ्तार

- 11 जनवरी, 2018 : आईएस मॉड्यूल से जुड़ा थाना सरधना के जसौरा निवासी अफसार गिरफ्तार

- 04 जनवरी, 2018 : आईएस मॉड्यूल से जुड़ा राधना निवासी नईम गिरफ्तार

- 27 नवंबर, 2015 : मेरठ में आईएसआई एजेंट एजाज को एसटीएफ ने किया गिरफ्तार

meerut@inext.co.in

Posted By: Satyendra Kumar Singh

Crime News inextlive from Crime News Desk