- सिंघम से लेकर सिंबा तक का शौक आ रहा नजर

- जिले के पुलिस कर्मचारियों में बदल रहा मूंछों का ट्रेंड

Gorakhpur@inext.co.in
GORAKHPUR:  पीएसी जवानों को मूंछ पर ताव देने के लिए शासन से भत्ता मिलेगा. पांच गुना भत्ता बढ़ाए जाने से पीएसी जवानों में जहां खुशी है. वहीं मूंछों पर ताव देने की बात को लेकर जिला पुलिस कर्मचारियों में मायूसी भी छाई है. जिला पुलिस कर्मचारियों का मानना है कि कभी मूंछें पुलिस की शान हुआ करती थीं लेकिन अब उपेक्षा और अधिकारियों की सख्ती से मूंछों की कद्र नहीं रह गई. गवर्नमेंट के फैसले को पूरे यूपी पुलिस पर लागू करना चाहिए. इससे पुलिस कर्मचारियों को मूंछों के रख-रखाव में इंटरेस्ट बढ़ेगा. पुलिस अधिकारियों का कहना है फिलहाल पीएसी में व्यवस्था लागू करने की बात हुई है. पुलिस के लिए कोई योजना आई तो उसका लाभ भी मिलेगा.

सिंघम से लेकर सिंबा तक नजर आती मूंछें
शहर में तैनात पुलिस कर्मचारियों के मूंछों का ट्रेंड पहले से ज्यादा बदला हुआ है. पूर्व में जहां रौबदार मूंछें रखने का रिवाज होता था. बड़ी-बड़ी घनी मूंछों पर ताव देते हुए पुलिस कर्मचारियों को देखकर लोग सहम जाते थे. लेकिन धीरे-धीरे यह ट्रेंड बदलकर क्लीन शेव तक पहुंच गया. रोजाना शेविंग करने के नियम-कानून की वजह से ज्यादातर पुलिस कर्मचारियों ने मूंछें शेव कर लीं. लेकिन फिल्मी दरोगाओं की स्टाइल में मूंछें रखने वालों का शौक भी बरकरार रहा. जिले में तैनात इंस्पेक्टर सुधीर कुमार सिंह की स्टाइल लोगों को पंसद आती है. नई उम्र के कई दरोगा उनकी तरह मूंछ रखते हैं. पूर्व में जब वह खोराबार में तैनात थे तब कई दरोगाओं ने उनकी तरह से मूंछें रख ली थी. पुलिस से जुड़े लोगों का कहना है कि पुलिस कर्मचारियों के लिए मानक तय है लेकिन कई लोग शौक में स्टाईलिश मूंछें रखने लगे हैं.

कोई आंकड़ा नहीं, इक्का-दुक्का आते नजर
पुलिस में मूंछों के रखरखाव के लिए भत्ता दिया जाता था. रिटायर हो चुके पुलिस कर्मचारियों का कहना है कि अंग्रेजों के समय में रौब जमाने वाली मूंछे खूब नजर आती थी. आजादी के बाद भी तमाम पुलिस कर्मचारी मूंछों को रखते थे. पिछले 10 साल के भीतर मूंछ का क्रेज पुलिस कर्मचारियों में घटा है. कभी-कभार किसी अफसर की तरफ से ईनाम मिलने पर पुलिस कर्मचारियों की मूंछ की सराहना होती थी. मूंछ के लिए मिलने वाला भत्ता बंद होने से ज्यादातर पुलिस कर्मचारी खुद के खर्चे से रख-रखाव करते हैं. इसलिए जिला पुलिस के पास इसका कोई आंकड़ा नहीं है कि कितने लोग रौबदार मूंछों वाले हैं.

पीएसी में 50 से बढ़कर 250 का भत्ता
पीएसी में तैनात जवानों को मूंछ भत्ता दिया जाएगा. पूर्व में मिलने वाले 50 रुपए के भत्ते को बढ़ाकर 250 रुपए कर दिया गया है. पीएसी में मूंछ रखने वालों में इस बात को लेकर काफी खुशी है. पीएसी में तैनात लोगों का कहना है कि अभी तक मूंछों का कोई आंकड़ा नहीं मिल सका है. भत्ता के लिए आवेदन सामने आने पर सही जानकारी मिल सकेगी. भत्ता बढ़ाने की खुशी पीएससी जवानों के चेहरे पर नजर आ रही है. जवानों का मानना है कि इससे आत्मबल मिलेगा. हालांकि जिले में तैनात पुलिस कर्मचारियों के लिए कोई इंतजाम नहीं किया गया है. इससे पुलिस लाइन के जवानों में मायूसी है.

पुलिस कर्मचारी अपने शौक से मूंछे रखते हैं. अभी तक भत्ता देने के संबंध में कोई जानकारी नहीं है. पीएसी के जवानों को भत्ता दिए जाने का निर्देश जारी हुआ है. अब तो लोग फिल्मी स्टाईल में मूंछे रख रहे हैं.

- विनय कुमार सिंह, एसपी सिटी