JAMSHEDPUR: परसुडीह थाना की पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर बुधवार को बागबेड़ा लाल बिल्डिंग कॉलोनी निवासी अजीत साव, रेलवे कॉलोनी पानी टंकी के रहने वाले पोपो और बागबेड़ा के गाढ़ाबासा क्षेत्र के संजीत साव के घर की कुर्की की. इस दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम थे.

सभी आरोपित हैं फरार

सभी आरोपित परसुडीह थाना क्षेत्र के कीताडीह में जुआ संचालक मन्ना महतो पर फाय¨रग और बर्मामाइंस स्टार सिनेमा रोड से कुछ दूर स्थित रेलवे काउंटर के सामने विगत रविवार को जुगसलाई बंगाली पाड़ा के सोनू मिश्रा की गोली मारकर हत्या करने के मामले में फरार हैं. सोनू मिश्रा के खिलाफ एक दर्जन से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं. हत्या मामले का एक आरोपित रंजीत साव ने सोमवार को आत्मसमर्पण कर दिया था. वहीं पुलिस इस मामले में पुलिस लोकेश उर्फ काठमांडू और दीपक काना को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है. रंजीत साव, संजीत साव और अजीत साव सहोदर भाई हैं. कुर्की जब्ती की पूरी कार्रवाई होने के बाद सिटी एसपी प्रभात कुमार बागबेड़ा थाना पहुंचे. विधि व्यवस्था डीएसपी, परसुडीह थाना प्रभारी अनिमेष कुमार गुप्ता और बागबेड़ा थाना प्रभारी लक्ष्मण प्रसाद से जानकारी ली. जब्त सामानों को देखा.

लगे थे 10 सीसीटीवी कैमरे

सबसे पहले पुलिस टीम बागबेड़ा गाढ़ाबासा निवासी संजीत साव के आवास पर कुर्की जब्ती करने को पहुंची. वहां पुलिस आरोपित के घर से लेकर गली तक लगे 10 सीसीटीवी कैमरे को देख दंग रह गई, लेकिन पुलिस के हाथ डीवीआर नहीं लगा. कुर्की जब्ती के अंदेशा के कारण डीवीआर को हटा लिया गया था ताकि घर में आने-जाने वाले लोगों की गतिविधि की रिकार्डिग पुलिस के हाथ नहीं लग पाए.

हटा लिए गए थे सामान

संजीत साव के दोमंजिला मकान से कुर्की जब्ती में पुलिस के हाथ कुछ विशेष सामान हाथ नहीं लगे. बर्तन भी नहीं मिले. महज दो चौकी, फ्रिज, सोफा, कुर्सी और अलरी ही पुलिस जब्त कर थाने ले गई. दरअसल, कुर्की जब्ती के पहले ही सामान हटा लिए गए थे.

पुलिस ने नहीं माना आग्रह

अजीत साव की पत्‍‌नी नीतू साव ने पुलिस अधिकारियों ने कहा कि उसके दो छोटे बेटे हैं. घर से सामान ले नहीं ले जाने का आग्रह करते हुए कहा कि अजीत साव से वह तलाक ले रही है. न्यायालय में वह अर्जी भी दाखिल कर चुकी है. इसके बावजूद पुलिस कमरे में रखी चौकी और बिछावन साथ ले गई.

चार महीने से गैंगवार

अवैध धंधा में वर्चस्व को लेकर बीते चार माह से डब्लू मिश्रा और संजीत साव गिरोह के बीच बागबेड़ा और परसुडीह इलाके में गैंगवार चल रहा था. दोनों गिरोह एक-दूसरे फाय¨रग कर रहे थे. पुलिस ने मंगलवार को डब्लू मिश्रा के बागबेड़ा आवास की कुर्की की थी.