-पूर्व उप महापौर की पोती ने वीडियो में परिवार पर लगाया आरोप

-सिविल लाइंस में दर्ज है दीक्षा के अपहरण की रिपोर्ट

PRAYAGRAJ: पूर्व उप महापौर की पोती दीक्षा ने परिवारीजनों की इच्छा के विरुद्ध गैर बिरादरी के लड़के ऋतुराज सिंह से शादी कर ली. बरेली के भाजपा विधायक की बेटी साक्षी के केस की चर्चा के बीच प्रयागराज की दीक्षा का प्रकरण को सुर्खियों में आते देर नहीं लगी.

दीक्षा के गायब होने की रिपोर्ट परिजनों ने सिविल लाइंस थाने में भोपाल निवासी ऋतुराज व उसके घरवालों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है. शादी के बाद दीक्षा ने एक वीडियो क्लिप भी भेजा है. इसमें उसने घरवालों पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है. उधर दीक्षा के दादा पूर्व महापौर मुरारी लाल अग्रवाल कहते हैं कि वह बेटी से मिलने भोपाल गए तो ऋतुराज के परिजनों ने उन्हें भगा दिया. धमकी देने की बात को वह खारिज करते हैं.

पांच जुलाई को निकली थी

सिविल लाइंस एरिया के महात्मा गांधी मार्ग निवासी पूर्व उप महापौर मुरारी लाल अग्रवाल के पुत्र पवन अग्रवाल की बेटी दीक्षा इंटीरियर डिजाइनिंग का कोर्स कर रही थी. बताते हैं कि पांच जुलाई 2019 की सुबह वह घर से निकली थी. इसके बाद दीक्षा लौटकर घर नहीं आई. काफी तलाशने के बावजूद जब वह नहीं मिली तो घरवालों ने 13 जुलाई को एमपी के भोपाल निवासी ऋतुराज सिंह सहित उसके पिता बाल कृष्ण राजपूत और मां राजू देवी के खिलाफ सिविल लाइंस थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दिया. परिजनों ने आरोप लगाया कि ऋतुराज के बहकाने पर बेटी दीक्षा घर में रखे करीब तीस लाख रुपए की ज्वैलरी, दो लाख रुपए नकद लेकर चली गई. परिजनों की ओर से दी गई तहरीर में पुलिस को बताया गया है कि दीक्षा के नाम करोड़ों की संपत्ति है. इसी सम्पत्ति की लालच में उसे घर से भगाकर अगवा कर लिया गया है.

वर्जन

मामले में तहरीर दी गई है. मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. जांच की जा रही है.

-राकेश चौरसिया, इंस्पेक्टर सिविल लाइंस