- डॉ. भारती होंगे दून मेडिकल कॉलेज के नए प्राचार्य

- 602 पदों के सृजन के प्रस्ताव को कार्मिक विभाग ने दी हरी झंडी

dehradoon@inext.co.in

DEHRADUN: दून मेडिकल कॉलेज को लंबी मशक्कत के बाद आखिरकार प्राचार्य मिल ही गया. चयन समिति की सिफारिश पर राज्य सरकार ने डा. प्रदीप भारती को प्राचार्य नियुक्त किया है. उनकी नियुक्ति एक वर्ष के लिए की गई है. उधर, कॉलेज में म्0ख् पदों के सृजन के प्रस्ताव को कार्मिक विभाग ने हरी झंडी दे दी है.

प्राचार्य की तैनाती को चली लंबी कसरत

दून मेडिकल कॉलेज में प्राचार्य की नियुक्ति को लेकर कसरत लंबे समय से जारी थी. नियुक्ति पत्र थमाने के बावजूद नवनियुक्त प्राचार्य कार्यभार ग्रहण करने के लिए आगे नहीं आ रहे थे. इस वजह से पिछली चयन समिति की पूरी कवायद कामयाब नहीं हो पाई. चयन समिति की सिफारिश के मुताबिक पहले और फिर दूसरे स्थान पर दावेदारों ने सरकार के अनुरोध को दरकिनार कर कार्यभार ग्रहण नहीं किया. एमसीआइ के प्रस्तावित दौरे के चलते सरकार खासी ऐहतियात बरत रही है, इस वजह से बीती ख्0 अक्टूबर को चीफ सेक्रेट्री राकेश शर्मा की अध्यक्षता में चयन समिति की बैठक में प्राचार्य पद के दावेदारों के साक्षात्कार लिए गए. समिति ने पैनल में दो नामों की सिफारिश की. सरकार ने लाला लाजपतराय मेडिकल कॉलेज मेरठ के न्यूरो सर्जरी विभाग के प्रोफेसर एवं विभागाध्यक्ष डा. प्रदीप भारती गुप्ता का प्राचार्य पद के लिए चयन किया है. इस बाबत चिकित्सा शिक्षा सचिव आरके सुधांशु ने फ्राइडे को आदेश जारी किए. डा. भारती को कार्यभार ग्रहण करने के लिए दो हफ्ते की मोहलत दी गई है. संविदा पर उनकी नियुक्ति एक साल के लिए की गई है.

वित्त विभाग को भेजा जाएगा प्रस्ताव

उधर कॉलेज में म्0ख् नए पदों के सृजन के प्रस्ताव को कार्मिक विभाग की मंजूरी मिल गई. चिकित्सा शिक्षा विभाग की ओर से इस बाबत प्रस्ताव कार्मिक को भेजा गया था. उक्त प्रस्ताव अब वित्त को भेजा गया है. वित्त की मंजूरी मिलने के बाद उक्त पदों के सृजन का रास्ता साफ हो जाएगा. सरकार कोशिश कर रही है कि आगामी महीनों में एमसीआइ के दौरे के मद्देनजर जरूरी स्टाफ की नियुक्ति की जाए.