- पीआरवी ने फरीदपुर टोल प्लाजा के पास बस के आगे लगा दी अपनी गाड़ी

- पुलिस की गाड़ी आगे खड़ी देख ड्राइवर ने लगाई ब्रेक, बस अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकराई

bareilly@inext.co.in

BAREILLY : बाइक को टक्कर मारने के ड्राइवर बस को तेजी से भगा रहा था. बस में सवार 45 स्टूडेंट्स ड्राइवर से बस रोकने को कह रहे थे, लेकिन उसके बाद भी वह बस भगाता रहा. बस और बाइक भिड़त के बाद से पीआरवी बस का पीछा कर रही थी. बस न रोकने पर पीआरवी ने ओवरटेक कर बस के आगे अपनी गाड़ी लगा दी. आगे पुलिस खड़ी देख ड्राइवर ने घबराकर ब्रेक मारी तो बस डिवाइडर से टकराकर रुक गई. इसमें सवार स्टूडेंट्स फौरन ही बस से बाहर निकल गए. स्टूडेंट्स के बस से निकलने के कुछ देर बाद ही बस में अचानक से भीषण आग लग गई. घटना के बाद अगर पीआरवी पुलिस चौकसी नहीं दिखाती तो शायद कई जानें चली जाती.

 

बाइक से बस में लगी आग

हादसे के बाद बाइक बस के पिछले हिस्से में फंस गई. करीब चार किमी. तक बाइक बस में फंसकर घिसटती रही, जिससे बाइक ने आग पकड़ ली. थोड़ी ही देर में उसने बस को भी चपेट में ले लिया.

 

कॉलेज प्रबंधन झाड़ रहा पल्ला

घटना को लेकर कॉलेज प्रबंधन पल्ला झाड़ रहा है. उसका कहना है कि जिस बस से हादसा हुआ है वह कॉलेज की बस नहीं है. स्टूडेंट्स ने खुद बस हायर की थी जोकि पिक और ड्राप करती थी.

जैसे ही बस बाइक से टकराई थी हम सब स्टूडेंट्स ने ड्राइवर से बस रोकने को कहा लेकिन उसने एक न सुनी. अगर बस डिवाइडर से टकराकर नहीं रुकती तो हम सब भी आग की आगोश में आ सकते थे.

सुमित, छात्र लोटस इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट.

 

 

जिस बस में आग लगी है वह कॉलेज की बस नहीं है. यह बस बाहर से ही बच्चों को पिक और ड्राप करती थी. हमारा इससे कोई लेना देना नहीं है.

अभिषेक अग्रवाल, एमडी लोटस इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट.

मेरी एक बस लोटस कॉलेज में अनुबंधित है. दो दिन पहले वह खराब हो गई थी तो उसके स्थान पर इस बस को भेजा था. बस हादसे में जल गई है और ड्राइवर थाने में है.

अनिल कुमार, बस इंचार्ज.