-रेलवे कर्मचारियों के साथ-साथ पैसेंजर्स भी हुए शामिल

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: इलाहाबाद को नई दिल्ली से जोड़ने वाली प्रयागराज एक्सप्रेस ने मंगलवार को 35 साल पूरे कर लिए. इस मौके पर जंक्शन पर एनसीआर और इलाहाबाद मंडल के रेल अधिकारियों ने पैसेंजर्स के साथ सेलिब्रेशन किया. 35 साल पहले 16 जुलाई 1984 को पहली बार इलाहाबाद जंक्शन से दिल्ली के लिए रवाना हुई प्रयागराज के रेल कर्मचारियों को सम्मानित किया गया. जीएम एनसीआर राजीव चौधरी और डीआरएम अमिताभ ने सम्मानित किया. सम्मानित होने वालों में शीतला प्रसाद श्रीवास्तव, वीएम दुबे, एन सक्सेना, गजेंद्र सिंह, राम रतन, प्रताप सिंह, विदित तिवारी अजय गुप्ता, एमपी सिंह, राम सिंह, सुनील कुमार, विष्णु चंद शुक्ला, राम जी सिंह, सुनील कुमार छिब्बर, विनोद नाविक, तौकीर अहमद, शंकर लाल आदि शामिल रहे. जीएम और डीआरएम ने केक काट कर प्रयागराज एक्सप्रेस के 35वें बर्थ-डे को सेलीब्रेट किया. वहीं प्रयागराज एक्सप्रेस की डॉक्यूमेंट्री दिखाई गई.

दुल्हन की तरह सजाई गई ट्रेन

35वें बर्थडे पर प्रयागराज एक्सप्रेस को दुल्हन की तरह सजाया गया. वहीं पैसेंजर्स का वेलकम किया गया. एसी फ‌र्स्ट क्लास के पैसेंजर्स को जहां बुके दिया गया. वहीं अन्य पैसेंजर्स को चॉकलेट, टॉफी और रेलवे की तरफ से एक-एक कपड़े का बैग दिया गया.

बॉक्स

प्रयागराज एक्सप्रेस के पहले टीटीई थे शीतला प्रसाद श्रीवास्तव

प्रयागराज एक्सप्रेस में बतौर टीटीई ड्यूटी करने वाले शीतला प्रसाद श्रीवास्तव फिलहाल सीटीई हैं. अपने 35 वर्ष के अनुभव को साझा करते हुए उन्होंने इसे एक रोचक सफर बताया.