8 दिसंबर से शुरु होगा अभियान
खबरों के मुताबिक, बीजेपी के इस बातचीत का सिलसिला 8 दिसंबर से शुरु होगा. इसके तहत पार्टी महिलाओं, वकीलों, छात्रों, बिजनेसमैन, अल्पसंख्यकों, झुग्गी में रहने वालों, शहरी और यमुना पार वालों से मीटिंग्स करेगी और उनकी समस्याओं को अच्छी तरह से सुनकर इस पर विचार करेगी. हालांकि सभी मीटिंग्स करने के बाद बीजेपी इन समस्याओं की लिस्ट बनाकर अपना घोषणापत्र तैयार करेगी. इसके अलावा पार्टी से जुडे सूत्रों का कहना है कि दिल्ली की कुछ मुख्य जगहों पर 30-40 लेटर बॉक्स भी रखे जायेंगे, ताकि वहां पर लोग अपने विचार लिखकर बॉक्स में डाल सकें.

बड़े स्तर पर होगी जनता से चर्चा

दिल्ली बीजेपी की मैनीफेस्टो कमेटी के संयोजक आलोक कुमार ने कहा, 'हम पहली बार बड़े स्तर पर लोगों के कई समूहों से चर्चा करने जा रहे हैं. हम चाहते हैं कि लोग हमें अपनी चिंताओं के बारे में बतायें. हमारी पार्टी सत्ता में आने के बाद उन्हें दूर करने की कोशिश करेगी. इसके साथ ही हम इन मुद्दों को विस चुनाव के लिये अपने घोषणापत्र में भी शामिल करेंगे.'

आप को हराने पर फोकस
बीजेपी के एक सीनियर सदस्य ने कहा, 'बीजेपी इस बार आम आदमी पार्टी (आप) के मजबूत नियंत्रण वाले इलाकों पर फोकस कर रही है. इसके तहत शेड्यूल कास्ट्स से संबंध रखने वाले लोगों से खास मुलाकात की जाएगी. आपको बताते चलें कि शेड्यूल कास्ट वोट बैंक पहले कांग्रेस से बीएसपी और फिर 'आप' की तरफ मुड़ गया है. दिल्ली की सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद बीजेपी उन्हे अपनी तरफ खींच नहीं पाई है. हम इस बार ऐसे एरिया में ज्यादा फोकस करेंगे, ताकि इन इलाकों पर आप की पकड़ को कमजोर कर सकें. उन्होंने कहा, 'वैसे तो बीजेपी ने अपनी वेबसाइट पर ऑनलाइन सुझाव मंगवाए हैं, लेकिन हर कोई इंटरनेट इस्तेमाल नहीं करता. इसलिए वे अपने सुझाव लिखकर भी हमें दे सकते हैं.'   

Hindi News from India News Desk

 

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

National News inextlive from India News Desk