- पोस्ट ऑफिस में अकाउंट खोलने के लिए मारामारी

- रात 12 बजे से ही लग रही कतार

- सरकारी मदद पाने को खोले जा रहे खाते

देहरादून।

बिहार सरकार ने लॉकडाउन में फंसे बिहार निवासियों को 1000 रुपए की मदद उनके खाते में देने की योजना शुरू की, जिसके बाद से ही पोस्ट ऑफिसेज में खाता खुलवाने के लिए लंबी कतारें लग रही हैं। महज 1000 रुपए पाने के लिए मजदूर तबके के लोग हजार जतन कर रहे हैं। आलम यह है कि देर रात से ही पोस्ट ऑफिसेज के बाहर मजदूर कतार में खड़े हो जाते हैं, रात ऐसे ही कटती है और दोपहर की कड़ी धूप में भी ये कतार कम नहीं होती।

रात 12 बजे से शुरू होती है कतार

खाली जेब मजदूरों की रात की नींद भी उड़ा देती है। देर रात 12 बजे से ही पोस्ट ऑफिसेज के आगे लंबी कतार खाता खोलने के लिए लग जाती है। ये कतार दोपहर की कड़ी धूप में भी लगी रहती है। हालांकि, कई लोगों का चार-चार दिन कतार में खड़े होने के बाद भी नंबर नहीं आ रहा। 55 वर्षीय बिमला रात दो बजे से पोस्ट ऑफिस के बाहर कतार में बैठ रही है। बैठी है। लल्लन भी इसी तरह तीन दिन से कतार में खड़ा हो रहा है। लेकिन, खाता नहीं खुल रहा।

29 दिन में खुले 15 हजार अकाउंट

बिहार सरकार के श्रमिकों के एकाउंट में पैसे डालने की घोषणा के बाद से अब तक देहरादून रीजन के पोस्ट अॅाफिस में 15080 एकांउट खोले जा चुके हैं। पोस्ट ऑफिस देहरादून रीजन में देहरादून और हरिद्वार आते हैं। इन दोनों ही रीजन में सबसे ज्यादा लोगों की कतार अकाउंट खोलने के लिए लग रही है।

खाता खोलना आसान

पोस्ट ऑफिस में अकांउट खुलवाना ज्यादा आसान है। अगर आपके पास केवल आधार कार्ड है तो खाता आसानी से खुल जाएगा। यही कारण है कि पोस्ट ऑफिसेज के आगे लंबी कतार लग रही है।

------------

इन दिनों सबसे ज्यादा लोग अकाउंट खुलवाने या पैसे चेक करने के लिए ही पहुंच रहे है। इसलिए यहां पर भीड़ भी लग रही है। इस दौरान सोशल डिस्टे¨सग मेंटेन करवाई जा रही है।

- अनुसूया प्रसाद चमोला, सीनियर सुपरिटेंडेंट ऑफ पोस्ट ऑफिस, देहरादून डिविजन

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner