JAMSHEDPUR: जुस्को में बेहतर ग्रेड हुआ तो हम किसी के लिए रुकेंगे नहीं. कंपनी प्रबंधन से अपील जाएगी कि उनके यहां पहले समझौता हो जाए. जुस्को श्रमिक यूनियन कार्यालय में मंगलवार शाम प्रेसवार्ता में अध्यक्ष रघुनाथ पांडेय ने ये बातें कहीं. उन्होंने बताया कि जुस्को में ग्रेड रिवीजन पर एक दौर की वार्ता हुई है. अभी तक मुद्देपर कोई बात नहीं हुई है. पहली वार्ता में ग्रेड रिवीजन की वार्ता के लिए केवल धरातल तैयार हुआ है. लेकिन अगर हम ग्रेड पर आगे बढ़े और बेहतर स्थान तक पहुंचे तो हम पहले समझौता कर लेंगे. मालूम हो कि जुस्को, टाटा स्टील की अनुषंगी इकाई है. यहां हमेशा से ग्रेड रिवीजन से लेकर बोनस तक टाटा स्टील के बाद समझौता होता आया है. लेकिन यूनियन अध्यक्ष अब ग्रेड रिवीजन के लिए कर्मचारियों को ज्यादा इंतजार कराने के मूड में नहीं दिख रहे हैं. जुस्को में 879 कर्मचारी कार्यरत हैं जिनका ग्रेड रिवीजन समझौता पहली जनवरी 2018 से लंबित है.

नए कर्मचारियों को मिला क्वार्टर

जुस्को में जेएस ग्रेड में कार्यरत 40 कर्मचारियों को वरीयता के आधार पर क्वार्टर मिलेगा. यूनियन अध्यक्ष रघुनाथ पांडेय ने बताया कि हमने कंपनी से मांग की थी. टाटा स्टील से क्वार्टर जुस्को को मिल गया है. आवेदन करने पर वरीयता के आधार पर कर्मचारियों को क्वार्टर आवंटित किए जाएंगे.

जून-जुलाई से शुरू होगा डिप्लोमा

रघुनाथ पांडेय ने बताया कि मैट्रिक पास कर्मचारियों को डिप्लोमा की सुविधा जून-जुलाई 2019 से शुरू होगी. इसके लिए अलकबीर पॉलिटेक्निक कॉलेज व शावक नानावटी टेक्नीकल इंस्टीट्यूट (एसएनटीआइ) से बात चल रही है. जहां बेहतर होगा वहां से कर्मचारियों को डिप्लोमा कराया जाएगा. इसके लिए पूरा खर्च कंपनी प्रबंधन उठाएगी जबकि फेल होने पर संबधित कर्मचारी को पढ़ाई के कुल खर्च का दस प्रतिशत देना होगा.

जेएनटीवीटीआई में प्रशिक्षण शुरू

रघुनाथ पांडेय ने बताया कि जेएन टाटा वोकेशनल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (जेएनटीवीटीआई) में जेडब्ल्यू ग्रेड कर्मचारियों के लिए प्रशिक्षण शुरू हो गया है. मैकेनिकल व इलेक्ट्रिकल में प्रशिक्षण लेने के बाद कर्मचारियों के प्रमोशन का रास्ता खुल जाएगा. बकौल रघुनाथ पांडेय, यूनियन नेताओं के बीच एकता के कारण मजदूर हित में इतने सारे काम हो रहे हैं. कर्मचारी हित में हम सब एक हैं.

टिमकेन में आजीवन मेडिकल की मांग

उधर, टिमकेन इंडिया लिमिडेड कर्मचारियों के ग्रेड रिवीजन की वार्ता में आजीवन मेडिकल सुविधा बहाल करने की मांग उठी. मंगलवार को कंपनी परिसर में प्रबंधन-यूनियन के बीच हुई वार्ता में यूनियन ने टाटा स्टील व टाटा मोटर्स की तर्ज पर यहां भी रिटायरमेंट के बाद मेडिकल सुविधा प्रदान करने की मांग उठाई. इसके साथ ही कर्मचारीपुत्रों के निबंधन कराने समेत अन्य मांगों पर सहमति बनाने की बात कही. कंपनी प्रबंधन की ओर से अगली वार्ता में उक्त मामले में मंतव्य देने को कहा गया. कर्मचारियों का ग्रेड बीते 22 माह से लंबित चल रहा है. वार्ता में प्रबंधन की ओर से दिनेश कुमार सिंह, सुमित शर्मा, यूनियन से एलपी सिंह, अमित कुमार, अनिल सिंह, संजय आदि मौजूद थे.