विरोधियों को दिया जवाब

सीओ जिआऊल हत्याकांड में क्लीन चिट मिलने के बाद राजा भइया पहली बार सिटी में किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल होने आए. बहाना तो छात्रसंघ उद्घाटन का था लेकिन राजा भइया ने विरोधियों को जवाब देने में कोई कसर नहीं छोड़ी. यूपी कॉलेज कैम्पस के ग्र्राउंड पर बने विशाल पंडाल में कई एमएलए मौजूद थे. इनमें खासकर सुशील सिंह, राकेश प्रताप सिंह, विनोद सिंह, एमएलसी यशवंत सिंह, अक्षय प्रताप सिंह रहे. इनके अलावा कई बाहुबली भी पंडाल में नजर आए. पूर्वांचल के कई कॉलेजेज के छात्रसंघ पदाधिकारी और एक्स स्टूडेंट लीडर्स पहुंचे थे. इनमें उपेन्द्र सिंह शक्ति, परमानंद सिंह, अनिल सिंह सागर, रणंजय सिंह, निशांत सिंह बोल्डर, वेद प्रकाश सिंह चंदन खास रहे. राजा भइया को हाथी-घोड़ों, बैण्डबाजा, दर्जनों कारों, सैकड़ों बाइक्स के काफिलों के साथ सर्किट हाउस से यूपी कॉलेज तक लाया गया. पूरे रास्ते जबरदस्त नारेबाजी होती रही. कार्यक्रम के दौरान भी राजा भइया के समर्थन में नारेबाजी होती रही.  

पहले से चल रही थी तैयारी

स्टूडेंट यूनियन के उद्घाटन के लिए एक पखवारे से जबरदस्त तैयारी चल रही थी. एक सप्ताह पहले राजा भइया के साथ लोग सिटी में आ पहुंचे थे. पूरे शहर को होर्डिंग-बैनर से पाट दिया गया था. छात्रसंघ उद्घाटन कार्यक्रम के दौैरान राजा भइया मंच पर बोलने पहुंचे तो केन्द्र सरकार को निशाना बनाया. इशारों में प्राइम मिनिस्टर को कठपुतली कहा. बोले, भले ही चीन और पाकिस्तान हमारे देश के खिलाफ जो करते रहें लेकिन प्रधानमंत्री की प्रतिक्रिया यही होती है कि इसकी कड़े शब्दों में निंदा करता हूं. अध्यक्षता कालेज प्रबंध समिति के जॉइंट सेक्रेटरी एपी सिंह ने की. वेलकम स्टूडेंट यूनियन के प्रेसिडेंट अमृतेश सिंह 'सबलÓ ने किया. जनरल सेक्रेटरी प्रिंस सिंह ने अभिनंदन पढ़ा. वाइस प्रेसिडेंट अमरनाथ राय, पुस्तकालय मंत्री अंकुर तिवारी ने अपनी बातें रखीं. संचालन डॉ. हर्षवर्धन सिंह और थैैंक्स प्राचार्य डॉ. पद्माकर सिंह ने दिया.