कानपुर। Ramadan 2020 Moon Sighting Date and Today Timing in India, Ramzan Moonrise Today Live updates: देश के विभिन्‍न हिस्‍सों में शुक्रवार 24 अप्रेल को रमजान का चांद नजर आया। बांग्‍लादेश में भी चांद का दीदार हुआ है। इसकी आधिकारिक घोषणा हो गई है। इसलिए दिल्‍ली समेत अन्‍य इलाकों में शनिवार से रमजान की शुरुआत होगी। बांग्‍लादेश व पाकिस्‍तान में भी 25 अप्रेल को रमजान का पहला दिन होगा। सऊदी अरब व अन्‍य मध्‍य पूर्व के देशों में से आज से ही रोजा यानी उपवास की शुरुआत हो गई है। रमजान के पाक महीने की शुरुआत चांद देखे जाने के साथ होती है। केरल के कोझिकोड व कर्नाटक के दक्षिण कन्‍नड़ व उडुपी जिलों में गुरुवार को चांद दिखाई दिए जाने के साथ ही वहां इस्‍लामिक कैलेंडर के नौवें महीने की शुरुआत पहले ही हो चुकी है। कोरोनावायरस संकट व लॉकडाउन के बीच इस महीने की शुरुआत के साथ ही लोगों से घरों में इबादत करने की अपील की जा रही है।

रमजान कल से

उम्‍मीद डॉट कॉम के मुताबिक 'आज Ruyat-e-Hilal Committee, Imarat-e-Sharaiyah-Hind की एक बैठक 1 बहादुर शाह जफर मार्ग, नई दिल्‍ल-110002 में हुई। इस बात की पुष्टि की जाती है कि चांद दिल्‍ली व देश के कई हिस्‍सों में नजर आया है', मुइजुद्दीन अहमद, सचिव Ruyat-e-Hilal Committee, Imarat-e-Sharaiyah-Hind ने जानकारी दी। उन्‍होंने आगे जोड़ा 'मौलाना मुइजुद्दीन Ruyat-e-Hilal Committee, Imarat-e-Sharaiyah-Hind इसलिए यह घोषणा करते हैं कि शनिवार 25 अप्रैल, 2020 को रमजान की पहली तारीख होगी।'

मुंबई में ड्रोन से निगरानी

रमजान के महीने में कोरोनोवायरस संकट के चलते लागू लॉकडाउन का मुंबई में उल्‍लंघन न हो इसकी निगरानी के लिए ड्रोन इस्‍तेमाल किए जाएंगे। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक धार्मिक नेताओं से बात की गई है और उन्‍होंने सहयोग का आश्‍वासन दिया है। लोगों से लॉकडाउन के नियमों का ध्‍यान रखते हुए धार्मिक परंपराओं का पालन करने की अपील की गई है। मुंबई पुलिस ने कहा है कि रेड जोन कंटेनमेंट एरिया में रह रहे लोगों के तक भोजन पहुंचाने के लिए एनजीओ आदि से मदद ली जाएगी।

जम्‍मू-कश्‍मीर में रमजान की तैयारी

मुसलमानों के लिए उपवास का पवित्र महीना रमज़ान, इस शनिवार से शुरू होना है, इस बार जम्मू-कश्मीर में कोरोनोवायरस से लड़ने के लिए लगाए गए प्रतिबंध के कारण सभाओं और सामूहिक प्रार्थनाओं पर सख्त प्रतिबंध है। अधिकांश मुस्लिम धर्मगुरुओं और संगठनों ने वायरस के प्रसार को रोकने के लिए प्रशासन के प्रयासों का समर्थन करते हुए, अनुयायियों से घर पर प्रार्थना करने और सामाजिक दूरी बनाए रखने के सरकार के निर्देशों का पालन करने का आग्रह किया है। इस बीच, प्रशासन ने यह स्पष्ट रूप से स्पष्ट कर दिया है कि यह लॉकडाउन मानदंडों के किसी भी उल्लंघन को बर्दाश्त नहीं करेगा और सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी। 'इस महामारी के खिलाफ हमारी लड़ाई में धर्मगुरुओं का उत्कृष्ट सहयोग रहा है। हालांकि, हम पिछले महीने के दौरान लोगों द्वारा किए गए बलिदान को बेकार नहीं जाने दे सकते। अगर कोई 15 अप्रेल से लागू निषेधाज्ञा का उल्‍लंघन करता है, तो मामले में कार्रवाई की जाएगी। 'उपायुक्त, श्रीनगर, शाहिद इकबाल चौधरी ने कहा।

दिल्‍ली पुलिस की अपील

COVID-19 महामारी की पृष्ठभूमि में, दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को लोगों से रमज़ान के पवित्र महीने के दौरान अपने घरों पर नमाज़ अदा करने और 'सेहरी' (सुबह का भोजन) करने की अपील की। 'मैं रमजान पर लोगों को शुभकामनाएं देता हूं। मैं लोगों पाक माह के दौरान घरों के भीतर नमाज अदा करने घर में 'सेहरी' (सुबह का भोजन) की अपील करता हूं। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के दिशानिर्देशों के अनुसार अज़ान की जानी चाहिए। लॉकडाउन के दौरान कृपया अपने घरों से बाहर न निकलें,' एमएस रंधावा, दिल्ली पुलिस पीआरओ ने एक वीडियो संदेश में कहा। रंधावा ने लोगों से लॉकडाउन दिशानिर्देशों का उल्लंघन नहीं करने और कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में दिल्ली पुलिस के साथ अपना सहयोग जारी रखने का भी आग्रह किया।

खाड़ी के देशों में शुक्रवार से हुई शुरुआत

उपवास और प्रार्थना के पवित्र इस्लामी महीने रमजान की शुरुआत शुक्रवार को खाड़ी के देशों में हो गई। वैश्विक कोरोनोवायरस प्रकोप और लॉकडाउन के बीच इस महीने की शुरुआत हो रही है। यूएई में, मून साइटिंग कमेटी ने गुरुवार को घोषणा की थी कि रमज़ान के महीने की शुरुआत के चांद को देखा गया है और 24 अप्रैल को इस महीने का पहला दिन होगा।

घर पर रहकर अपने परिवार के साथ प्रार्थना करें

हैदराबाद के मक्का मस्जिद के अधीक्षक मोहम्मद अब्दुल कादिर सिद्दीकी ने शुक्रवार को मुस्लिम समुदाय से आग्रह किया कि वे रमज़ान के दौरान अपने घरों के अंदर रहकर नमाज़ अदा करें। उन्‍होंने कहा कि 'कल से पवित्र रमज़ान का महीना शुरू होने वाला है, इसलिए मैं सभी से अपने घरों पर रहकर ईश्वर से प्रार्थना करने का अनुरोध करता हूं क्योंकि COVID-19 महामारी का प्रकोप है। इस बार अपने परिवार के साथ प्रार्थना करें और अपने घरों में समृद्धि लाएं।' चांद के दीदार के साथ, रमजान 24 अप्रैल से शुरू होगा। जबकि 25 अप्रैल को पहला रोजा होगा। का पहला दिन होगा।

Posted By: Inextlive Desk

Spiritual News inextlive from Spiritual News Desk