नई दिल्ली (पीटीआई)। भारत में 26 जनवरी को 70वें गणतंत्र दिवस का उत्सव मनाया जाएगा। इसको लेकर तैयारियां जोरों से चल रही हैं। इस मौके पर हर साल की तरह इस बार भी भारतीय वायु सेना अपनी ताकत दिखाएगी। आगामी गणतंत्र दिवस 2020 को यादगार बनाने की योजना बनाई जा रही है। गणतंत्र दिवस के परेड में भारतीय वायुसेना के कुल 41 विमान भाग लेंगे। गणतंत्र दिवस पर पहली बार अमेरिकी हैवी लिफ्ट हेलीकॉप्टर चिनूक और लड़ाकू हेलीकॉप्टर अपाचे भी नजर आएंगे। ये दोनों हेलीकॉप्टर आसमान में अपनी ताकत का प्रदर्शन करेंगे। इसके अलावा, राफेल और तेजस भी इस मौके पर नजर आएंगे। बता दें कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारतीय वायुसेना द्वारा हासिल किए गए पहले राफेल लड़ाकू जेट के लिए पिछले साल अक्टूबर में फ्रांस में आधिकारिक हैंडओवर समारोह में भाग लिया था।

IAF को अब और ज्यादा ताकतवर बनाएंगे ये 4 चिनूक हेलीकाॅप्टर, जानें इनकी खासियत

दो चरणों में किया जाएगा फ्लाईपास्ट का आयोजन

अधिकारियों ने बताया है कि एफएलटी लेफ्टिनेंट श्रीकांत शर्मा राजपथ पर दूसरी बार 144-आईएएफ की अगुवाई करेंगे, जबकि वारंट ऑफिसर व एक निपुण ड्रम मेजर अशोक कुमार आईएएफ बैंड का नेतृत्व करेंगे। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, 'गणतंत्र दिवस के फ्लाईपास्ट में भारतीय वायु सेना के 41 विमान और सेना के एविएशन शाखा के चार हेलीकॉप्टर शामिल होंगे। विमान के प्रकारों में 16 लड़ाकू विमान, 10 परिवहन विमान और 19 हेलीकॉप्टर हैं। फ्लाईपास्ट का आयोजन दो चरणों में किया जाएगा।' इसी दौरान सभी विमान अपनी ताकत का प्रदर्शन करेंगे।

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk