India gained independence on 15 August 1947, after which the process of preparing a constitution was started. The constitution was passed on 26 November 1949 in the constituentassembly. It was adopted on 26 January 1950 with a democratic government system, when the country became a republic in true sense.

रिपब्लिक डे हर इंडियन के लिए एक प्राउड ऑकेजन है और हम सब को इसे रिलिजियसली सेलिब्रेट करना चाहिए. एक ट्रू इंडियन कहलाने का राइट हमें तभी मिलेगा जब हम ऑनेस्टी  से इस फेस्टिवल को सेलिब्रेट करेंगे. वैसे इंडिया में हर मंथ कोई ना कोई फेस्टिवल होता है और मैक्सिमम फेमिलीज में आज भी ओल्ड टेडिशन फॉलो किए जाते हैं और कई पर्व और त्यौहार मनाए जाते हैं. लेकिन हर कास्ट और रिलिजन को साथ लेकर चलने वाले दो ही फेस्टिवल हैं इंडिपेंडेंस डे और रिपब्लिक डे. RedFort

हम जानते हैं फ्रेंडस की आपके पेरेंटस और ग्रैंड पेरेंटस अक्सर यह विश करते हैं कि आप हर पर्व में शामिल हों उससे रिलेटेड बिलीफ को फॉलो करें. उनकी इस विश में ऐसी कोई बुराई भी नहीं है लेकिन अब आपको उन्हें बताना है कि वह अपने नेशनल फेस्टिवल को अच्छे तरीके से सेलिब्रेट किया करें.

कोई कहे या ना कहे पर सच्चाई तो यही है कि हम अपनी फ्रीडम के लिए दिए गए प्राइस को भुला चुके हैं और यही वजह है कि पूरी ऑनेस्टी के साथ रिपब्लिक डे सेलिब्रेट करने वाले लोग कम ही रह गए हैं. अब यह इस जेनेरेशन की रिस्पॉन्सेबिलिटी है कि वो अपने एल्डर्स को रिमांइड कराए कि हमारी आजादी कितनी खूबसूरत और वेल्युबल है. जब हम अपने घर की हर छोटी से छोटी खुशी को सेलिब्रेट करते हैं तो यह तो हमारे नेशन का सबसे इम्पॉट्रेंट मोमेंट है. आप कुछ भी ना कर सकें तो कम से कम अपनी फेमिली के साथ अपने घर के नियरेस्ट  प्लेस पर होने वाली फ्लैग होस्टिंग में जरूर पार्टिसिपेट करने की कोशिश करें.Republic Day

इस दिन हर जगह छोटे-छोटे फ्लैग एवेलेबिल होते हैं उन्हें अपने घर के टैरेस,रूफ या मेन डोर और गेट पर जहां भी लग सकें लगायें. इवनिंग में कम से कम फाइव से लेकर मैक्सिमम जितनी हो सके कैंडल जला कर नेशन के लिए अपनी रेस्पेक्ट शो करें.

ऐसा बिलकुल नहीं है कि किसी के भी दिल में नेशन के लिए कंसर्न या रेस्पेक्ट  कम होती है पर कुछ इमोशन्स को शो करना जरूरी है ताकि जिन्हें  इन प्राइसलेस मोमेंटस के बारे में पता नहीं है वह भी जान सकें. इस कंट्री से ही हमारी आइडेंटिटी है और यह फ्रीडम ही है जो हमें हमारा पसंदीदा लाइफ स्टाइल चूज करने का मौका देती है. सो इस देश ने आपको इतना कुछ दिया है इसके कांस्टिटयूशन डे को सेलिब्रेट करने के लिए कुछ वक्त निकालना तो हमारी डयूटी बनता ही है ना..........