6 महीने की टाइम लिमिट
रजिस्ट्रार सैय्यद वकार हुसैन के अनुसार सीएसजेएम यूनिवर्सिटी ने ओर से यह डिसीजन लिया गया है. अध्यादेश के तहत एग्जाम के बाद रिटेन आन्सर शीट्स को 6 महीने तक ही अनुरक्षित रखने का प्रावधान होता है. निर्धारित समयसीमा के अंदर ही आन्सर शीट्स दिखाये जाने की व्यवस्था की गई है. इस अध्यादेश को यूनिवर्सिटी ने अपनी वेबसाइट पर भी अपलोड कर रखा है.

एप्लीकेशन नहीं होगी एंटरटेन
यूनिवर्सिटी की ओर से जारी अधिसूचना के तहत रिजल्ट डिक्लेयर होने के 6 महीने तक ही रिटेन आन्सर शीट्स को स्टूडेंट्स देख सकते हैं. तयशुदा समयसीमा के बाद एप्लीकेशन पर कोई विचार नहीं किया जाएगा. भले ही इसके लिए जनसूचना अधिकार अधिनियम-2005 का हवाला दिया जाए. गौरतलब है आन्सर शीट्स की री-चेकिंग के लिए यूनिवर्सिटी के पास कई स्टूडेंट्स आवेदन करते रहते हैं. इसीलिए यूनिवर्सिटी ने अध्यादेश का हवाला देकर स्टूडेंट्स को निर्धारित टाइम पीरियड की जानकारी उपलब्ध कराई है. जिससे एप्लीकेशन रिजेक्ट होने की असली वजह मालूम चल सके.