- दैनिक जागरण आईनेक्स्ट द्वारा आयोजित नेक्स्ट जेन रिटेल सॉल्यूशंस से मिली नई राह

- रिटेल बाजार की चुनौतियों, उम्मीदों पर किया गया फोकस, हर किसी के मन में जागी नई उम्मीद

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW: व्यापारिक क्षेत्र में हर दिन कोई न कोई नये चैलेंज सामने आते रहते हैं. इनके बीच जनता का विश्वास बनाए रखना और प्रोडक्ट की क्वालिटी मेंनटेन बनाए रखना भी सबसे बड़ी चुनौती है. अक्सर देखने में आता है कि रिटेल सेक्टर से जुड़े लोग चुनौतियों के मकड़जाल में फंसकर कंफ्यूज हो जाते हैं और अपने टारगेट से भटक जाते हैं. इसकी वजह से कई बार उन्हें नुकसान का भी सामना करना पड़ता है. इन चुनौतियों से किस तरह से निपटा जाए और सफलता की मंजिल तक पहुंचने के मार्ग को आसान बनाया जाए, इसके लिए दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने अपने कदम आगे बढ़ाए और नेक्स्ट जेन रिटेल सॉल्यूशन प्रोग्राम रूपी मंच के माध्यम से रिटेल सेक्टर से जुड़े लोगों की समस्याओं का न सिर्फ समाधान किया बल्कि उनमें आशा और सफलता की एक उम्मीद भी बांधी.

दो दिवसीय सेमिनार

एल्डिको ग्रीन स्थित बेस्ट वेस्टर्न होटल में बुधवार को वाइस प्रेसीडेंट मार्केटिंग अनिर्बान बागची, सीनियर न्यूज एडिटर धर्मेद्र सिंह, नेशनल ब्रांड हेड चेतन सहगल, चीफ मैनेजर मार्केटिंग स्मिता दत्ता, मार्केटिंग मैनेजर सोनम त्रिपाठी और पंजाबी ढाबा के मालिक अमित शर्मा ने सरस्वती प्रतिमा के सामने दीप प्रज्जवलित कर सेमिनार के पहले दिन की शुरुआत की.

व्यापार को आगे बढ़ाने का प्लेटफॉर्म

एरिया सेल्स मैनेजर प्रसून शुक्ला ने सेमिनार के आयोजन के उद्देश्य पर फोकस करते हुए कहा कि सॉल्यूशन शब्द को लेकर हमने खासा होमवर्क किया है. इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से व्यापार को नेक्स्ट लेवल पर ले जाने में खासा सहयोग मिलेगा. हमारी ओर से व्यापारिक चुनौतियों से निपटने के सॉल्यूशंस दिए जाएंगे, जो खासे कारगर साबित होंगे.

ट्रेडिशनल शॉपिंग करते 92 प्रतिशत कस्टमर

नेशनल ब्रांड हेड चेतन सहगल ने प्रजेंटेशन के माध्यम से ऑनलाइन और रिटेल बिजनेस के कई बिंदुओं पर प्रकाश डाला. उन्होंने कहा कि मेट्रो सिटीज में भले ही ऑनलाइन शॉपिंग जोर पकड़ रही हो, लेकिन जैसे ही बात छोटे शहरों की आती है तो आज भी 92 प्रतिशत कस्टमर ट्रेडिशनल शॉपिंग पर ही ध्यान देते हैं. एफएमसीजी का मार्केट हमेशा बड़ा बना रहेगा. उन्होंने एक आंकड़ा शो करते हुए बताया कि 500 मिलियन भारतीय मोबाइल इंटरनेट यूज करते हैं, लेकिन इसमें से सिर्फ 224 मिलियन लोग एक बार ही ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं. इससे साफ है कि रिटेल सेक्टर में उम्मीदें बरकरार है, बस जरूरत है तो मौकों को भुनाने की.

बातचीत

नई सोच का होगा विकास

द निक जागरण आईनेक्स्ट के मंच से निश्चित रूप से नई सोच का विकास होगा, जो व्यापारिक दृष्टिकोण के लिए बहुत जरूरी है. इस तरह के प्रोग्राम से व्यापारिक चुनौतियों से निपटने का रास्ता मिलता है. इस तरह के सेमिनार आयोजित होते रहने चाहिए.

अमित शर्मा, पंजाबी ढाबा

ब्रांड के प्रति ट्रस्ट बनाए रखना जरूरी

निश्चित रूप से ब्रांड के प्रति ट्रस्ट बनाए रखना बहुत जरूरी है. इस तरह के सेमिनार से न सिर्फ नई दिशा मिलती है बल्कि चुनौतियों से किस तरह से निपटा जाए, इसके भी सॉल्यूशन सामने आते हैं.

स्नेहिल, लाला जुगुल किशोर ज्वैलर्स

मार्केट में खासा चेंज

बदलते परिवेश में मार्केट में खासा चेंज हुआ है, जिससे कस्टमर का नेचर भी बदला है. हम पारदर्शिता लाकर ही कस्टमर का भरोसा जीत रहे हैं. दैनिक जागरण आईनेक्स्ट की इस कवायद से हमें खासा सहयोग मिलेगा.

नीलांश रस्तोगी, लाला जुगुल किशोर ज्वैलर्स

बिल्कुल उम्मीद बंधी

दैनिक जागरण आईनेक्स्ट की यह मुहिम बेहद शानदार है. रिटेल सेक्टर में हर दिन चुनौतियां सामने आती हैं. इस मंच से हमें चुनौतियों से निपटने के गुर सीखने को मिले हैं.

वकार अहमद, लाला रिटल टी एंड ट्रैवल्स, गोमतीनगर

चैलेंजेस तो बढ़े हैं

मंदी के इस दौर में रिटेल सेक्टर में भी खासी चुनौतियां भी बढ़ी हैं. कस्टमर्स ने बाजार से दूरी बनाई है. रिटेल सॉल्यूशन से हमें यह जानने का मौका मिला कि किस तरह से कस्टमर को अपनी तरफ अट्रैक्ट किया जा सकता है.

मो. फारुख, रॉयल फर्नीचर

अवेयरनेस बढ़ेगी

दैनिक जागरण आईनेक्स्ट के रिटेल सॉल्यूशन सेमिनार से रिटेल सेक्टर से जुड़े लोगों में अवेयरनेस जरूर आएगी, जो भी समस्याएं सामने आती हैं, उन्हें किस तरह से फेस किया जाए, जानने को मिलेगा.

रवींद्र सिंह, ओलिव हॉस्पिटेलिटी

हर दिन नया चैलेंज

रिटेल सेक्टर में हर दिन नया चैलेंज सामने आता है. इस सेमिनार में आकर हमें जानने का मौका मिला है कि किस तरह से चैलेंज को फेस किया जाए.

निर्मल, ओलिव हॉस्पिटेलिटी

बिल्कुल नया मंच

दैनिक जागरण आईनेक्स्ट का यह मंच अपने में बिल्कुल नया है. डिफरेंट तरह की एक्टिविटीज के साथ ही रिटेल सेक्टर से जुड़ी जरूरी बातें जानने को मिली हैं. निश्चित रूप से यह प्रयास सराहनीय है.

आबाद अली, पहल डिजाइन

क्रियेटिव आइडिया है

यह सेमिनार दैनिक जागरण आईनेक्स्ट का एक बेहतरीन क्रियेटिव आइडिया है. इससे बिजनेस को बूस्ट मिलेगा. साथ ही प्रोजेक्ट को नई दिशा भी मिलेगी. सेमिनार के माध्यम से हमें डीजे आईनेक्स्ट से भी जुड़ने का मौका मिल रहा है.

अरविंद के सहगल, मार्केटिंग मैनेजर, 100 सिक्योरिटी सॉल्यूशंस