मेरठ (ब्यूरो)। हर बार की तरह चालकों के अवकाश निरस्त करने की तरह इस साल भी सभी प्रमुख रुट पर बसों के फेरे बढ़ा दिए गए हैं । साथ ही साथ इस बार एक बस के चालक को फेस्टिवल सीजन में निर्धारित किमी का टारगेट दिया गया है ताकि यात्रियों के लिए बसों की उपलब्ध पूरी रहे और चालक समय से अपना सफर पूरा करे।

3 नवंबर तक योजना

गौरतलब है कि 27 अक्टूबर को इस माह दीपावली है और 2 नवंबर को छठ का त्यौहार है ऐसे में रोडवेज ने 25 से 3 नवंबर तक के लिए योजना तैयार की है। इसके तहत चालकों के लिए प्रोत्साहन योजना जिसमें अधिक बस चलाने वाले चालक परिचालक को अतिरिक्त भुगतान किया जाएगा और उसके अलावा बसों का संचालन विभिन्न रूटों पर बढ़ाया गया है।

यह रहेगी विभिन्न रूटों पर व्यवस्थाएं

- मेरठ से आगरा, बरेली, लखनऊ, नोएडा, देहरादून, सहारनपुर के लिए हर समय उपलब्ध होगी बस

- दिल्ली के लिए 60 प्रतिशत अधिक यात्री लोड मिलने पर बढेगी बसों की संख्या

- लखनऊ, गाजियाबाद, कानपुर के लिए भी यात्रियों की संख्या के हिसाब से बढ़ेगी संख्या

- निगम की शत प्रतिशत बसों का इस अवधि के दौरान होगा संचालन, वर्कशॉप में खराब खड़ी बसों की 25 से पहले होगी हालत दुरुस्त

- प्रत्येक डिपो में स्पेयर पार्टस, टायर, एक्ससीरीज पार्ट्स की उपलब्ध के आदेश

- शत प्रतिशत बसों के संचालन के लिए क्षेत्रवार आफ रोड वाहनों की समीक्षा करेंगे एमडी

- मृत्यु व गंभीर बीमारी की स्थिति में ही चालक परिचालकों को मिलेगा अवकाश

- ग्रामीण रूटों पर प्रतिदिन 300 किमी होगा संचालन

- उपनगरीय क्षेत्र में 250 किमी प्रतिदिन का संचालन

'लोकल लेवल पर बसों की उपलब्धता शत प्रतिशत रहेगी जो बसें वर्कशॉप में खराब खड़ी हैं उनको सही कराकर लोकल रूट पर संचालित किया जाएगा।'

- नीरज सक्सेना, आरएम

meerut@inextcoin

Posted By: Inextlive Desk

National News inextlive from India News Desk