-बड़ा बाईपास पर तीन बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम

-नकदी, ज्वैलरी, कारतूस समेत ढाई लाख का माल लूटकर फरार

बरेली- लॉकडाउन में छूट की वजह से बदमाश भी एक्टिव हो गए हैं। थर्सडे देर रात बड़ा बाईपास पर कुमराह चौराहा के पास स्थित कॉलोनी में लुटेरों ने रिटायर्ड कानून गो के घर में घुसकर लूटपाट की। लुटेरों ने कानून गो की पत्‍‌नी के साथ मारपीट भी की। लुटेरे घर से नकदी, ज्वैलरी और 5 कारतूस भी लूटकर ले गए हैं। बदमाशों ने घर में रखी रिवाल्वर को पानी में फेंक दिया। देर रात में पुलिस पहुंची लेकिन मामले को दबाने में लगी रही। बाद में मौके पर पुलिस अधिकारियों, फील्ड यूनिट और डॉग स्क्वॉयड ने जाकर जांच की। पुलिस को आसपास के ही लुटेरों पर शक है। क्राइम ब्रांच की टीमें भी जांच के लिए लग गई हैं।

कनपटी पर रखा तमंचा

पीलीभीत के सुनगढ़ी के रहने वाले रिटायर्ड कानून गो विजय कुमार सक्सेना, बड़ा बाईपास पर कुमराह चौराहा के पास बनी कॉलोनी में पत्‍‌नी नूतन सक्सेना के साथ रहते हैं। उनकी दो बेटियां समीक्षा और प्रतीक्षा हैं, जिनकी शादी हो चुकी है। थर्सडे रात में दोनों लोग घर में सो रहे थे। करीब एक बजे उन्हें मकान के पिछले गेट पर आहट हुई तो नूतन ने उनसे कहा कि आवाज आ रही है। इस पर उन्होंने हवा चलना समझकर इसे नजरअंदाज कर दिया। कुछ देर बाद मेन गेट पर आहट हुई तो उठकर गैलरी में पहुंचे तब तक दरवाजा तोड़कर तीन बदमाश अंदर घुस आए और उनकी कनपटी पर तमंचा रख दिया और नीचे बैठने के लिए बोला। जब उन्होंने विरोध की कोशिश की तो गोली मारने की धमकी दी।

40 मिनट की लूटपाट

विजय के मुताबिक एक बदमाश ने तमंचा तान रखा था और दो बदमाश अंदर जाकर लूटपाट करने लगे। बदमाशों ने उनकी पहनी हुई अंगूठी, पत्‍‌नी की अंगूठी व चेन लूट ली। इसके अलावा घर में रखे 30 हजार रुपए नकद व अन्य ज्वैलरी भी लूट ली। लूटपाट करने के बाद बदमाश मेन गेट से निकलकर भाग गए। बदमाश घर में करीब 40 मिनट तक रहे। उन्हें आशंका है कि कुछ बदमाश बाहर भी हो सकते हैं लेकिन उन्होंने सिर्फ 3 बदमाशों को ही देखा है। बदमाशों के जाने के बाद उन्होंने 112 पर कॉल कर पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद मौके पर पुलिस पहुंची और जांच पड़ताल की। पुलिस पहले मामले को चोरी मान रही थी लेकिन जब मामला लूट का पता चला तो फिर पुलिस के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। एसपी क्राइम रमेश कुमार भारतीय, एएसपी अभिषेक वर्मा ने भी मौके पर जाकर रिटायर्ड कानून गो और उनकी पत्‍‌नी से पूछताछ की।

सीढ़ी के किए दो हिस्से

लुटेरों ने पहले मकान में पीछे के गेट से घर में घुसने का प्रयास किया। इसके लिए वह कॉलोनी में रखी एक बड़ी सीढ़ी चुराकर ले आए और इसके दो हिस्से कर दिए। एक हिस्से को बाहर और दूसरे हिस्से को घर के अंदर लगा दिया, लेकिन यहां से एंट्री नहीं कर सके। जिसके बाद मेन गेट के चैनल का लॉक तोड़ा और फिर प्लाई के दरवाजे को सब्बल डालकर तोड़ दिया और अंदर घुस गए।

पत्‍‌नी के साथ की मारपीट

विजय का पहले पीलीभीत में आर्टीफिशियल ज्वैलरी का काम था लेकिन काम बंद होने के चलते इसकी ज्वैलरी भी घर में रखी थी। लूटपाट के दौरान लुटेरों के हत्थे ऑर्टीफिशियल ज्वैलरी भी लग गई। इससे लुटेरे खफा हो गए और नकली ज्वैलरी रखने की बात कहते हुए नूतन के साथ मारपीट की। लुटेरे ने झाड़ू में लगे डंडे से भी नूतन पर कई प्रहार किए।

लुंगी और वरमूडा पहने थे लुटेरे

कानून गो ने बताया कि घर में घुसे तीनों लुटेरे लोकल के ही लग रहे थे। क्योंकि एक लुटेरे ने चेक की लुंगी पहनी थी और एक ने वरमूडा पहन रखा था। सिर्फ एक लुटेरे ने पेंट शर्ट पहनी थी। एक लुटेरा मोटा था और उसका तोंद निकला था। दो लुटेरे लंबे और गोरे थे। सभी लोकल की ही भाषा बोल रहे थे।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner