मुंबई (पीटीआई)। भारत के सीमित ओवरों के कप्तान रोहित शर्मा का कहना है कि वह 'काफ इंजरी' से पूरी तरह से उबर चुके हैं। इस इंजरी के चलते उन्हें इस साल के शुरू में न्यूजीलैंड दौरा बीच में छोड़ना पड़ा था। रोहित को 2 फरवरी को ब्लैक कैप्स के खिलाफ टी 20 श्रृंखला के दौरान चोट के बाद घर वापस लौटना पड़ा। इसके बाद वह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की घरेलू एकदिवसीय श्रृंखला में भी हिस्सा नहीं ले पाए थे। क्योंकि उस वक्त हिटमैन रिहैब सेंटर में थे। अभी उनकी रिहैब प्रक्रिया पूरी नहीं हुई थी कि, देश में लाॅकडाउन लग गया।

रोहित को पास करना होगा फिटनेस टेस्ट

फुटबाॅल लीग ला लीगा के फेसबुक लाइव सेशन के दौरान रोहित ने कहा, 'लॉकडाउन होने से पहले, मैं खेलने के लिए लगभग तैयार था। वह पूरा हफ्ता मेरा फिटनेस टेस्ट होने वाला था, लेकिन फिर लॉकडाउन हुआ और मुझे वापस आना पड़ा।' रोहित ने कहा, 'एक बार जब सब कुछ खुल जाएगा, तो मुझे पहले केंद्र (एनसीए) में जाना होगा और अपना फिटनेस टेस्ट देना होगा और एक बार जब मैं फिटनेस टेस्ट पास कर लूंगा, तो मुझे टीम के साथ जुड़ने की अनुमति होगी।"

हिटमैन को याद आते हैं दोस्त

महाराष्ट्र सरकार ने दर्शकों के बिना ग्रीन और ऑरेंज जोन में व्यक्तिगत प्रशिक्षण के लिए स्टेडियम खोलने की अनुमति दी है। 31 मई तक गृह मंत्रालय ने तालाबंदी के चौथे चरण के लिए प्रतिबंधों में छूट की पेशकश की थी। रोहित ने कहा कि वह अपनी टीम के साथियों के साथ हैंगआउट कर रहे हैं और जब चीजें वापस सामान्य हो जाएंगी तो उनके साथ ट्रेनिंग करना चाहते हैं। हिटमैन ने कहा, 'हाँ, मुझे अपने साथियों की याद आती है, उनके साथ घूमना और उनके साथ डिनर करना। हालाँकि दोस्तों के रूप में हम वीडियो कॉल के माध्यम से संपर्क में रहने की कोशिश कर रहे हैं यह देखने के लिए कि क्या हो रहा है, जैसी चीजें हैं और हम इसे बहुत अच्छी तरह से प्रबंधित करते हैं।'

डाइटिंग पर हैं फोकस

मुंबई संक्रामक बीमारी से सबसे अधिक प्रभावित है और रोहित ने कहा कि प्रशिक्षण को फिर से शुरू करने में उसे अधिक समय लग सकता है।"मैं यह मान रहा हूं कि वे (अन्य) स्थान मुंबई की तुलना में बहुत पहले खुल सकते हैं, जिस शहर में मैं रहता हूं और जो सबसे अधिक संक्रमित है। मुझे लगता है कि दूसरे लोग मुझे पहले अपने ट्रेनिंग के वीडियो भेज देंगे।' मुंबई में रहने वाले 33 वर्षीय सलामी बल्लेबाज ने कहा कि इस कोरोनावायरस-मजबूर लॉकडाउन के दौरान, उन्होंने अपने आहार पर ध्यान केंद्रित किया।' रोहित ने कहा, 'मैं अपने आहार के साथ बहुत अच्छा रहा हूं, क्योंकि जब आप कुछ भी नहीं कर रहे होते हैं तो वजन बढ़ना आसान होता है। हालांकि, हमें यहां पर थोड़ा जिम वगैरह करना पड़ता है।'

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk