-कंजर्वेशन रिजर्व आसन वेटलैंड में प्रवासी प¨रदों की सुरक्षा में सेंध

-तीन शिकारियों ने शुक्रवार की रात में बंदूक से चार प्रवासी पक्षी मार दिए

-दो पशु चिकित्साधिकारियों के पैनल ने किया सुर्खाब का पोस्टमार्टम

VIKASNAGAR (JNN) : चकराता वन प्रभाग अंतर्गत देश के पहले कंजरवेशन रिजर्व आसन वेटलैंड क्षेत्र में प्रवासी प¨रदों की सुरक्षा में सेंध मारते हुए हिमाचल के तीन शिकारियों ने शुक्रवार की रात में बंदूक से चार प्रवासी पक्षी रुडी शेलडक यानि सुर्खाब मार गिराए.

दो शिकारी बंदूक समेत भाग निकले

आसन रेंजर के नेतृत्व में गश्त कर रहे वन कर्मियों ने हिमाचल के एक शिकारी को दबोच लिया, जबकि दो बंदूक समेत भाग निकले. रेंज अधिकारी जवाहर सिंह तोमर ने गिरफ्तार एक व फरार दो आरोपियों के खिलाफ वन्य जीव संरक्षण अधिनियम में मुकदमा दर्ज कर लिया है. रेंजर ने गिरफ्तार आरोपी को जेल भेज दिया है, फरार आरोपियों के खिलाफ पांवटा साहिब हिमाचल थाने में भी तहरीर दी गयी है.

करीब क्क् हजार प्रवासी प¨रदे हैं

देश के पहले कंजर्वेशन रिजर्व आसन वेटलैंड में वर्तमान में ब्क् प्रजातियों के करीब क्क् हजार प्रवासी प¨रदे हैं, जिनकी सुरक्षा को दस दस वन कर्मियों की तीन टीमें रात दिन गश्त कर रही हैं. लेकिन हिमाचल के तीन शिकारियों ने शुक्रवार की रात में प्रवासी प¨रदों की सुरक्षा में सेंध मारते हुए यमुना नदी में बंदूक से फायर कर वन्य जीव संरक्षण अधिनियम में अनुसूची चार श्रेणी के चार प्रवासी पक्षी रुडी शेलडक यानि सुर्खाब को मार गिराया.

चार मृत सुर्खाब बरामद किए गए

चकराता वन प्रभाग के एसडीओ बीबी मार्तोलिया, रेंजर जवाहर सिंह तोमर व वन बीट अधिकारी ने जब गोली की आवाज सुनी तो सब यमुना की ओर दौड़े. वन कर्मियों की टीम को देखकर तीनों शिकारी भागने लगे, लेकिन टीम ने एक आरोपी को दबोच लिया. जिसके कब्जे से चार मृत सुर्खाब बरामद किए गए. पूछताछ में गिरफ्तार आरोपी ने अपनी पहचान बलबीर पुत्र ज्वाला राम निवासी बंमल सिलई जिला सिरमौर हिमाचल प्रदेश के रूप में बतायी. आरोपी ने बंदूक समेत भागे अपने साथियों के नाम इंद्र सिंह व केदार सिंह निवासी हिमाचल बताए.

मृत सुर्खाबों का पोस्टमार्टम किया

शनिवार को रेंज कार्यालय डाकपत्थर में दो पशु चिकित्साधिकारियों डा. अनूप नौटियाल हरबर्टपुर व डा. अजय असवाल कालसी ने मृत सुर्खाबों का पोस्टमार्टम किया. चारों सुर्खाब के गोली से मरने की पुष्टि हुई. रेंजर जवाहर सिंह के अनुसार आरोपियों के खिलाफ वन्यजीव संरक्षण अधिनियम क्97ख् की संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है. फरार दो आरोपियों की तलाश में दबिशें दी जा रही हैं.

फोटो::: ख्7 वीकेएस-