गॉड ऑफ क्रिकेट सचिन तेंदुलकर फॉर्म में लौट आए हैं. ईरानी कप में सेंचुरी लगाकर अपनी जबरदस्त फॉर्म में लौटने का संकेत देने वाले सचिन तेंदुलकर ने ऑस्ट्रेलया के अगेंस्ट उसी लय में बैटिंग की. सहवाग, मुरली और पुजारा के आउट होने के बाद भी सचिन हाफ सेंचुरी लगाकर जमे हुए हैं. सचिन ने इस दौरान अपने करियर की 67वीं हाफ सेंचुरी जड़ी. उनकी इस शानदार इनिंग की मदद से इंडिया ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक 3 विकेट के नुकसान पर 182 रन बना लिए हैं. सचिन तेंदुलकर 71 और कोहली 50 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं. सचिन तेंदुलकर अब सेंचुरी की तरफ बढ़ रहे हैं.

विजय और वीरू हुए फेल

इंडियन ओपनर्स का बुरा दौर चेन्नई टेस्ट में भी जारी रहा. गौतम की जगह टीम में शामिल किए गए मुरली विजय और किसी तरीके से अपनी जगह बचाने वाले वीरेंद्र सहवाग जल्दी ही पवेलियन लौट गए. दोनों जेम्स पेटिसन की बॉल पर बोल्ड हुए.

Aus all out for 380

चेन्नई टेस्ट के दूसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई टीम फर्स्ट इनिंग में लंच से पहले 380 रन बनाकर आल आउट हो गई. आर अश्विन ने 7 विकेट झटके. ऑस्ट्रेलियाई कैप्टन माइकल क्लार्क 130 रन बनाकर पवेलियन लौटे. रवींद्र जडेजा ने 2 और हरभजन सिंह ने 1 विकेट लिया. अब लंच के बाद टीम इंडिया बैटिंग करने उतरेगी. ऑस्ट्रेलिया की पेस बैटरी इंडियन बैटिंग लाइन अप का टेस्ट लेगी.

पुछल्लों संग क्लार्क का कमाल

जबरदस्त फार्म में चल रहे माइकल क्लार्क ने पुछल्ले बैट्समैनों के साथ मिलकर दूसरे दिन ऑस्ट्रेलियाई इनिंग को आगे बढ़ाया. ऑस्ट्रेलिया ने 7 विकेट पर 316 रनों से आगे खेलना शुरू किया. पहले सेशन की शुरुआत में क्लार्क और सिडल ने संभलकर खेलते हुए ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 350 के पार पहुंचाया. क्लार्क और सिडल ने 8वें विकेट के लिए 57 रनों की पार्टनरशिप की. क्लार्क को जडेजा ने भुवनेश्वर के हाथों कैच करा इंडिया को बड़ी सफलता दिलाई. इसके बाद हरभजन सिंह ने सिडल को स्िलप में सहवाग के हाथों कैच कराया. इसके बाद अश्िवन ने लियोन को लेग स्िलप में कोहली के हाथों कैच कराकर ऑस्ट्रेलियाई इनिंग को समेटा.

अश्िवन को नहीं मिला साथ

चेपक की पिच पर आर अश्िवन की गेंदों पर ऑस्ट्रेलियाई बैट्समैन परेशान हो रहे थे. अश्िवन को दूसरे एंड पर किसी का साथ नहीं मिला. अश्िवन ने 41 ओवर बॉलिंग की और 103 रन देकर 7 विकेट झटके. टर्निंग ट्रैक पर हरभजन सिंह की फिरकी का जादू नहीं चला. हरभजन ने 25 ओवरों में 87 रन दिए और उन्हें केवल 1 विकेट मिला. ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा ने किफायती बॉलिंग करते हुए 36 ओवरों में 71 रन देकर 2 विकेट झटके जिसमें सबसे अहम क्लार्क का विकेट शामिल था.

Posted By: Garima Shukla

Cricket News inextlive from Cricket News Desk