सीएम बनकर नहीं दे पाए सिक्योरिटी
मोदी को नपुंसक कहने के बाद विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने अपने कमेंट को पूरी तरह से सही बताया है. वहीं विपक्षीय भारतीय जनता पार्टी खुर्शीद के इस विवादस्पद कमेंट के बाद माफी मांग कर रही है. विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने भाजपा के पीएम कैंडीडेट नरेंद्र मोदी पर अपनी सारी मर्यादा भूलकर फिर हमला बोला. खुर्शीद ने मोदी का नाम लिए बिना कहा कि आपकी एक मंत्री माया कोडनानी लोगों को मरवाती हैं. उनको तो सुप्रीम कोर्ट ने क्लीनचिट नहीं दी. वो तो आपकी कैबिनेट की मंत्री थीं. उनको नहीं रोक पाये. हमारा आरोप यह नहीं है कि आपने मरवाया है. हमारा आरोप यह है कि आप नपुंसक हो, जो मारने वालों को रोक नहीं पाये. सलमान अनंत होटल में कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित कर रहे थे और उन्होंने गुजरात दंगों के लिए मोदी को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि वो पुलिस व न्यायालय का सहारा लेकर दंगों की जिम्मेदारी से नहीं बच सकते. मुख्यमंत्री रहते हुए लोगों को सिक्योरिटी प्रोवाइड कराने में वो नाकाम रहे हैं. मोदी अब प्रधानमंत्री बनकर देश की रक्षा करने का दावा कर रहे.

हमने जख्मों पर मरहम भी लगाया

खुर्शीद ने पूछा कि गोधरा में ट्रेन में आग लगने के बाद हुए दंगों को आखिर वो मुख्यमंत्री रहते हुए भी क्यों नहीं रोक सके. अहसान जाफरी के घर हमला हुआ और 127 लोग मारे गए. सलमान ने 1984 के दंगों को लेकर कांग्रेस का बचाव किया. विदेश मंत्री ने कहा कि दंगों में सर्वाधिक नुकसान सिख भाइयों को हुआ, लेकिन कांग्रेस ने माफी भी मांगी और उसी कौम के व्यक्ति को राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और सेना का सर्वोच्च पद देकर जख्मों पर मरहम भी लगाया. मोदी दंगों पर माफी मांगने तक को तैयार नहीं हैं.

Hindi news from National news desk, inextlive

National News inextlive from India News Desk