lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : विधानसभा के मानसून सत्र के पहले दिन समाजवादी पार्टी ने परिसर में प्रदेश की बदतर कानून-व्यवस्था को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया। तत्पश्चात सुबह 11 बजे शुरू हुए सत्र के पहले दिन की कार्यवाही में भाजपा के दिवंगत विधायक जगन प्रसाद गर्ग को श्रद्धांजलि देने बाद सदन पूरे दिन के लिए स्थगित कर दिया गया। सदन की कार्यवाही शुरू होते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगरा उत्तरी से भाजपा विधायक रहे जगन प्रसाद गर्ग के निधन पर शोक प्रकट किया और उनके निधन को पार्टी और सदन की अपूरणीय क्षति बताया। इसके बाद नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी, कांग्रेस की आराधना मिश्रा मोना, बसपा नेता लालजी वर्मा और अन्य सदस्यों ने भी शोक व्यक्त किया और दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि अर्पित की।

कई मुद्दों को लेकर प्रदर्शन
सपा विधायक सुबह 9.30 बजे चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के समक्ष एकत्र हुए जिनके हाथों में सरकार विरोधी नारे लिखे पोस्टर थे। सपा सदस्यों ने बुधवार को सोनभद्र में गोली कांड और संभल में तीन कैदियों को छुड़ाने के लिए दो पुलिस कर्मियों की हत्या, सपा सांसद आजम खां पर फर्जी मुकदमे दर्ज कर उत्पीडऩ किये जाने, सपा कार्यकर्ताओं पर फर्जी केस दर्ज करने तथा महंगाई आदि मुद्दों को लेकर सरकार के खिलाफ  प्रदर्शन किया। नेता विरोधी दल राम गोविंद चौधरी ने कहा कि प्रदेश में अब तो पुलिस वाले भी सुरक्षित नहीं है। प्रदेश सरकार हर मुद्दे पर फेल साबित हो रही है। इस दौरान विधान परिषद में नेता विपक्ष अहमद हसन, सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम, बलराम यादव, मनोज कुमार पांडेय, शैलेंद्र यादव ललई, नरेंद्र वर्मा, दुर्गा प्रसाद यादव, आलमबदी, रामसुंदर निषाद, डॉ। राजपाल कश्यप आदि मौजूद थे।

National News inextlive from India News Desk