मुंबई (एएनआई)। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े की साली हर्षदा दीनानाथ रेडकर ने मंगलवार को महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक के खिलाफ उनके द्वारा पोस्ट किए गए एक ट्वीट को लेकर शिकायत दर्ज कराई। नवाब मलिक और एक अन्य व्यक्ति निशांत वर्मा के खिलाफ गोरेगांव पुलिस स्टेशन में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 354, 354डी, 503 और 506 और महिला अश्लीलता अधिनियम 1986 की धारा 4 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। एक लिखित शिकायत में, रेडकर ने कहा, "पिछले कुछ दिनों से, मैं हैरान हूं कि मेरा नाम इंटरनेट और अन्य सोशल मीडिया पर ट्रेंड हो रहा है और दावा किया जा रहा है कि मुझे अनैतिक तस्करी से जुड़े अपराधों के संबंध में 2018 में ड्रग्स के कथित कब्जे के लिए गिरफ्तार किया गया है। रेडकर ने कहा कि एक प्रोफेशनल कंपटीशन के कारण उन्हें उनके अभिनय करियर के दौरान फंसाया गया था।

हर्षदा बोलीं वे मेरे जीजा को डराना चाहते
हर्षदा दीनानाथ रेडकर ने यह भी कहा कि आरोपी इतने अनपढ़ हैं कि उन्हें इस बात का एहसास ही नहीं है कि वे मेरे जीजा को डराना चाहते हैं, वे मेरे बसे हुए जीवन को बर्बाद कर रहे हैं और इस अधिनियम में मेरे खिलाफ उपरोक्त अपराध कर रहे हैं। उन्होंने कहा, "ट्वीट में 14 साल पहले हुई कथित गतिविधियों का जिक्र है। शिकायत में आगे लिखा गया है, "वह (मलिक) समीर वानखेड़े द्वारा अपने ड्रग एडिक्ट / ड्रग डीलर दामाद के अपराध का बदला लेने की कोशिश कर रहे है या इससे भी बदतर, ड्रग डीलरों को जांच से बचा रहे हैं। यह सब नवाब मलिक के एक हालिया ट्वीट के बाद हुआ है, जहां मंत्री ने पूछा कि क्या समीर वानखेड़े की साली नशीली दवाओं के कारोबार में शामिल थीं।
मामला पुणे की अदालत में लंबित हैं
ट्वीट में नवाब मलिक ने लिखा, "समीर दाऊद वानखेड़े, क्या आपकी साली हर्षदा दीनानाथ रेडकर ड्रग कारोबार में शामिल हैं? आपको जवाब देना चाहिए क्योंकि उनका मामला पुणे की अदालत में लंबित है। यहां सबूत है।" राकांपा नेता ने उस मामले से जुड़े एक दस्तावेज का स्नैपशॉट भी पोस्ट किया। बता दें कि इससे पहले समीर वानखेड़े के पिता ने ध्यानदेव के वानखेड़े ने नवाब मलिक के खिलाफ एसी-एसटी एक्ट के तहत कथित तौर पर अपने परिवार की जाति के बारे में झूठे आरोप लगाने के मामले में शिकायत दर्ज करायी है। उन्होंने कहा है कि आरोपी नवाब मलिक ने एक साक्षात्कार में हमारे और परिवार के सदस्यों के खिलाफ हमारी जाति के बारे में झूठा और अपमानजनक बयान दिया था।

National News inextlive from India News Desk