बीजिंग (एएफपी)। SARS जैसे रहस्यमय वायरस ने अब एक तीसरे व्यक्ति की जान ले ली है। अधिकारियों ने रविवार को बताया कि चीन में तेजी से फैल रहा यह वायरस अब तीसरे एशियाई देश में भी पहुंच गया है। यह नया कोरोनवायरस वायरस, सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम (SARS) से जुड़े होने के कारण काफी चर्चा में आया है। इसने 2002-2003 में चीन और हांगकांग में लगभग 650 लोगों को मार डाला था। कोरोनवायरस वायरस को पहली बार मध्य चीनी शहर वुहान में खोजा गया था। वुहान में 1 करोड़ से अधिक लोग रहते हैं और यह चीन का एक प्रमुख परिवहन केंद्र भी है। अगले सप्ताह से वार्षिक चंद्र नववर्ष शुरू हो रहा है, जिसके चलते देश भर में सैकड़ों चीनी लोग अपने परिवार के साथ यात्रा करेंगे। यह वायरस उन लोगों के बीच डर पैदा करेगा।

यूएनएससी में कश्मीर के मुद्दे पर एक बार हुई पाकिस्तान की किरकिरी, सभी ने कहा यह भारत पाक का द्विपक्षीय मामला

136 नए मामले पाए गए

स्थानीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि इस वायरस से एक तीसरे व्यक्ति के मरने की पुष्टि की गई और वुहान में सप्ताह के अंत तक 136 नए मामले पाए गए। उन्होंने बताया कि चीन में अब तक इस वायरस से पीड़ित 201 लोगों का इलाज किया जा चुका है। दक्षिण कोरिया ने सोमवार को अपना पहला मामला दर्ज किया, उसने बताया कि एक 35 साल की महिला, जो वुहान से आई थी, वह इस वायरस के चपेट में आ गई है। इसके अलावा, थाईलैंड और जापान ने पहले कुल तीन मामलों की पुष्टि की है, जिनमें से सभी चीनी शहर का दौरा कर चुके थे। अब इस वायरस के एक शरीर से दूसरे शरीर में फैसले की पुष्टि नहीं हुई है लेकिन अधिकारियों ने पहले कहा है कि ऐसी संभवना हो सकती है।

भीड़भाड़ वाले इलाकों में लोगों ने पहना है मास्क

बीजिंग के डैक्सिंग जिले में स्वास्थ्य अधिकारियों ने कहा कि वुहान की यात्रा करने वाले दो लोगों का वायरस से जुड़े निमोनिया के लिए इलाज किया गया और वे स्थिर स्थिति में हैं। बीजिंग के भीड़-भाड़ वाले केंद्रीय रेलवे स्टेशन पर, कुछ यात्रियों ने एहतियात के तौर पर मास्क पहना है, लेकिन वायरस को लेकर बहुत चिंतित नहीं हैं।

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk