महाराष्ट्र में हुई मौतों के बाद स्वास्थ्य विभाग हुआ एलर्ट

बाहर से आने वालों की भीड का किया जा रहा हेल्थ चेकअप

prayagraj@inext.co.in

प्रयागराज भले ही कोरोना निगेटिव है लेकिन खतरा टला नही है। दिल्ली, गाजियाबाद आदि शहरों से पलायन करने वालों ने स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन की चिंता बढ़ा दी है। इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग सक्रिय हो उठा है। जिले की सीमा पर आने-जाने वालों की स्क्रीनिंग शुरू कर दी गयी है। उनका डिटेल कलेक्ट करके संबंधित सीएचसी व पीएचसी को इंफॉर्म किया जा रहा है। उन्हें 14 दिन क्वेंरेंटाइन रहने की सलाह दी जा रही है।

रोजाना आ रहे मजदूर

बडी संख्या में लोग रोजाना जिले में आ रहे हैं। यह सभी प्रदेश के दूसरे जिलों और दूसरे प्रदेशों से पहुंच रहे हैं। कुछ ऐसे भी हैं जो इसी जिले के हैं। यह सभी लॉक डाउन के बाद प्रयागराज सहित आसपास के जिलों के लिए निकले थे। साधन नहीं मिला तो ये पैदल ही अपने डेस्टिनेशन की ओर मूव कर गये। जहां ये थे, वहां उनके लिए काम नहीं बचा है। इसी के चलते यह तादात बढ़ रही है।

बडा नुकसान कर सकती है लापरवाही

इस समय देश के कई इलाकों से मजदूर यूपी और बिहार आ रहे हैं।

इनमें बड़ी संख्या यूपी के पूवरंचल के शहर में रहने वालों की है

प्रयागराज आने और यहां से निकलने वालों की भी बड़ी संख्या है

स्वास्थ्य विभाग सूबेदारगंज, झलवा, लालगोपालगंज बार्डर, एमपी बार्डर, मिर्जापुर, कानपुर बार्डर पर स्कैनिंग कर रहा है

संभावना जतायी जा रही है कि सुरक्षा चक्र टूटने का बड़ा नुकसान हो सकता है

पब्लिक सर्विलांस का बडा सहारा

कोरोना वायरस से लडने में प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को पब्लिक सर्विलांस का बडा सपोर्ट मिल रहा है। अधिकारी कहते हैं कि लोग बहुत जागरुक हो गए हैं। हमें विश्वास है कि अगर कोई व्यक्ति बिना जांच या स्क्त्रीनिंग के दाखाल हो रहा है तेा इसकी सूचना भी हमे आसपास के लोगों से मिल जाएगी। वैसे जिले के सभी ग्राम प्रधानों को बाहर से आने वालों पर नजर रखने के आदेश दिये जा चुके हैं।

जिले की तमाम सीमाओं पर टीमों को लगाकर आने वालों की जांच की जा रही है। किसी को काम्पि्लकेशन है तो उसकी हिस्ट्री तैयार करके संबंधित सीएचसी-पीएचसी को भेजा जा रहा है। दाएं, बाएं से निकलने वालों के लिए प्रधानों को एलर्ट कर दिया गया है।

डा। रिषी सहाय,

प्रभारी आपदा प्रबंधन स्वास्थ्य विभाग

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner