-कैंट में मौसा ने ही सचिवालय में जान पहचान कर ठगा

BAREILLY: कैंट थाना अंतर्गत सचिवालय में जान पहचान का लालच देकर नौकरी लगवाने के नाम पर 3 लाख की ठगी का मामला दर्ज किया गया है. ठगने वाला कोई और नहीं बल्कि पीडि़त का मौसा है. पीडि़त ने एसएसपी ऑफिस में मामले की शिकायत की थी. कैंट पुलिस ने जांच में आरोप सही पाए जाने पर फ्राइडे आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है.

दो महीने में नौकरी लगने का दिया लालच

मसीदगंज गौटिया निवासी जफर के मुताबिक नवंबर 2015 में उसके मौसा अलीशेर ने उसे बताया था कि उनकी जान पहचान लखनऊ सचिवालय में है. वह उसकी सरकारी नौकरी लगवा सकता है. इसके लिए उसे तीन लाख रुपए देने होंगे. उसने किसी तरह से उधार रुपए लेकर अलीशेर के जरिए अवनीश को दे दिए. दोनों ने कहा कि दो महीने में उसकी नौकरी लग जाएगी लेकिन जब नौकरी नहीं लगी तो उसे बार-बार आश्वासन दिया जाने लगा और उसके रुपए भी वापस नहीं किए गए. जफर ने 11 जनवरी को एसएसपी ऑफिस में मामले की शिकायत की थी. एसएसपी ने कैंट पुलिस को मामले की जांच का आदेश दिया था. पुलिस जांच में आया कि जफर के साथ ठगी हुई है. उसके मोबाइल में पैसों की डील की रिकार्डिग भी है. पुलिस ने उससे रिकार्डिग की सीडी ले ली है.