- तीन साल पहले कांग्रेस से भाजपा में शामिल होने के बाद मिली थी वाई श्रेणी सुरक्षा

ROORKEE: विवादों में घिरे खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन की वाई श्रेणी की सुरक्षा केंद्र सरकार ने हटा दी है. तीन साल पहले कांग्रेस से भाजपा में आने के बाद केंद्र सरकार ने चैंपियन समेत नौ विधायकों को वाई श्रेणी की सुरक्षा उपलब्ध कराई थी. भाजपा से निष्कासित होने के बाद चैंपियन को यह तीसरा बड़ा झटका है.

केंद्र सरकार ने हटाई सुरक्षा

खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन का कुछ दिनों पहले सोशल साइट पर एक वीडियो वायरल हुआ था. इसमें वह एक हाथ में रायफल और दूसरे हाथ में पिस्टल समेत तीन लाइसेंसी हथियार लेकर डांस कर रहे थे. वीडियो में उन्होंने उत्तराखंड को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी भी की थी. यह वीडियो वायरल होने से पूरे प्रदेश में हड़कंप मच गया था. चैंपियन का वीडियो सामने आने के बाद भाजपा हाईकमान ने उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया था. वीडियो में लाइसेंसी हथियारों का प्रदर्शन करने पर हरिद्वार जिलाधिकारी ने उनके तीन असलाह के लाइसेंस निरस्त कर दिए थे. इसके बाद भाजपा हाईकमान ने इन्हें पार्टी से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया था. अब चैंपियन को केंद्र सरकार ने तीसरा बड़ा झटका दिया है. केंद्र सरकार ने खानपुर विधायक की सुरक्षा में लगाई गई वाई श्रेणी की सुरक्षा हटा दी है. चैंपियन की सुरक्षा में सीआईएसएफ के जवान लगे थे. बताते चले कि वर्ष 2016 में चैंपियन समेत नौ विधायक भाजपा में शामिल हो गए थे. इसी दौरान केंद्र सरकार ने चैंपियन समेत सभी नौ विधायकों को वाई श्रेणी की सुरक्षा दी थी. आईजी अजय रौतेला ने खानपुर विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन की सुरक्षा से वाई श्रेणी की सुरक्षा वापस लिए जाने की पुष्टि की है.