कानपुर। कोरोना वायरस के चलते भारत में 75 जिलों में किए गए लॉक डाउन का असर मार्केट पर दिख रहा है। सोमवार को बाजार खुलते ही सेंसेक्स में बड़ी गिरावट दर्ज की गई। खबर लिखे जाने तक बीएसई सेंसेक्स में 3300 अंक तक की गिरावट देखी गई। सुबह बाजार 27,608 अंक पर खुला था और इसमें सिर्फ 200 अंकों की बढ़त हुई थी कि उसके बाद से यह लगातार गिर रहा। फिलहाल सेंसेक्स 26,544 अंक पर है और मार्केट में बिकवाली हावी है।

एक घंटे में 10 लाख करोड़ डूबे
दिन के शुरुआती एक घंटे में निवेशकों का करीब 10 लाख करोड़ रुपया डूबा। मार्केट में इस अस्थिरता को लेकर सेबी ने एलान किया कि वह बाजार में उतार-चढ़ाव को कंट्रोल करने के लिए कुछ जरूरी उपाय करेगा। हालांकि उन्होंने ट्रेंडिंग के घंटे कम करने की खबर को गलत बताया। वहीं ट्रेडर्स का कहना है कि फाॅरेन इनवेस्टर्स के मुनाफा वसूली के चलते घरेलू निवेशकों का विश्वास डगमगा रहा है। इसका असर बाजार पर पड़ रहा।

बैंकिंग सेक्टर में सबसे ज्यादा गिरावट

सोमवार को सबसे ज्यादा गिरावट बैंकिंग सेक्टर में देखी गई। सबसे ज्यादा बिकवाल इंडसंड बैंक पर हावी रहा। इसमें करीब 23.18 परसेंट की गिरावट देखी गई। वहीं दूसरे नंबर पर एक्सिस बैंक है जिसमें 20.9 परसेंट गिरावट रही। इसके अलावा बजाज फाइनेंस में 19.41 परसेंट, आईसीआईसीआई बैंक में 16.78 परसेंट गिरावट देखी गई।

सबसे कम नुकसान पॉवरग्रिड को

अभी तक सेंसेक्स में लिस्टेड सभी 30 कंपनियां फिलहाल घाटे में चल रही। इसमें सबसे कम नुकसान पॉवरग्रिड को है। इसमें अभी तक 4.10 परसेंट की गिरावट दर्ज की गई। वहीं ओनजीसी में 5.11, टीसीएस 5.34, एचसीएलटेक में 6.72, हिंदुस्तान लीवर में 8.59 परसेंट, भारती एयरटेल में 8.65 परसेंट गिरावट देखी गई।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Business News inextlive from Business News Desk