फ्लैग - सुविधाएं न होने की वजह से जिला अस्पताल में बच्चों को नहीं मिल पा रहा था इलाज, प्राइवेट हॉस्पिटल ले जा रहे थे पेरेंट्स

अभी यह है सुविधा

- 29 मरीजों को ही जिला अस्पताल में बने बच्चा वार्ड में भर्ती कर सकते हैं

- 03 रेडिएंट वॉर्मर ही वर्तमान समय में चल रहे

- 03 रेडिएंट वॉर्मर बीते दिनों महिला अस्पताल के मांगने पर बच्चा वार्ड से भेजे जा चुके हैं

--------------

- जिला अस्पताल के बच्चा वार्ड व न्यू बॉर्न बेबी यूनिट का होगा निर्माण

- ओवरहेड टैंक के पास खाली पड़ी जमीन की गई चिह्नित, सीएमओ को भेजा पत्र

बरेली : जिला अस्पताल में बच्चों के इलाज की सुविधाएं बढ़ाने और नवजात शिशुओं को बेहतर इलाज देने के लिए बच्चा वार्ड के विस्तार की तैयारी शुरू कर दी गई है. बच्चा वार्ड के साथ ही नवजात शिशुओं के लिए भी अलग यूनिट के निर्माण का खाका खींचा जा रहा है. एडीएसआईसी ने सड़क पार ओवरहेड टैंक के पास खाली भूमि को चिह्नित कर लिया है.

नहीं मिल पा रहा इलाज

मौजूदा समय में जिला अस्पताल में बने बच्चा वार्ड में 29 मरीजों को भर्ती करने की सुविधा है. इसके साथ ही वहां नवजात शिशुओं की देखभाल के लिए इकाई बनी है, जिसमें सिर्फ तीन रेडिएंट वॉर्मर ही चल रहे हैं. बीते दिनों महिला अस्पताल के मांगने पर बच्चा वार्ड से तीन रेडिएंट वार्मर वहां भेजे जा चुके हैं.

पिछले साल बढ़े थे बच्चे

पिछले साल भी संक्रमण काल के समय बच्चा वार्ड में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी थी. तब बच्चों को भर्ती करने के लिए महिला अस्पताल का वार्ड लिया गया. यह समस्या हर बार आने की संभावना डॉक्टर जता रहे हैं.

कमिश्नर ने दिया था सुझाव

कुछ समय पहले कमिश्नर ने अस्पताल में बच्चा वार्ड का विस्तार किए जाने का सुझाव दिया था. इस पर सीएमओ ने एडीएसआईसी को पत्र भेजकर जिला अस्पताल परिसर में भूमि तलाशने को कहा था. अस्पताल के पश्चिमी भाग में ओवरहेड टैंक के पास की खाली जमीन अफसरों ने चिह्नित कर सीएमओ को पत्र भेज दिया है.

बजट का प्रस्ताव भेजने की तैयारी

न्यू बॉर्न बेबी यूनिट बनाने का निर्माण जल्द से जल्द शुरू हो सके इसके लिए विभाग के अफसरों ने शासन से बजट स्वीकृत कराने के लिए प्रस्ताव लगभग तैयार कर लिया है. अगले माह की शुरुआत में इसे शासन को भेज दिया जाएगा.

नए उपकरणों की भी मांग

सीएमओ को भेजे पत्र में एडीएसआईसी ने लिखा है कि प्रस्तावित नवजात शिशु इकाई व बच्चा वार्ड के भवन के साथ ही प्रशिक्षित मानव संसाधन व नए उपकरणों की भी आवश्यकता होगी. बिना प्रशिक्षित मानव संसाधन के चिकित्सालय में नए नवजात शिशु इकाई एवं नए बच्चा वार्ड का संचालन किया जाना संभव नहीं है.

वर्जन

बच्चा वार्ड के विस्तार के लिए भूमि की जरूरत है. सड़क पार ओवरहेड टैंक के पास भूमि चिह्नित की गई है. इस संबंध में सीएमओ को पत्र भेजकर जानकारी दे दी है.

डॉ. टीएस आर्या, एडीएसआईसी