-एक लाख 20 हजार में मिला सवा दो लाख रुपए में आने वाला कागज

-स्टेशनरी आइटम्स से हुई पहली खरीद

GORAKHPUR: डीडीयू गोरखपुर यूनिवर्सिटी में गवर्नमेंट ई-मार्केट पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के साथ ही बचत शुरू हो गई है. यूनिवर्सिटी के जिम्मेदारों ने पहली ही खरीदारी में करीब एक लाख रुपए की बचत की है. स्टेशनरी के पहले ऑर्डर में यूनिवर्सिटी को करीब सवा लाख रुपए खर्च आ रहा है, जबकि पहले इतने ही कागज मंगवाने के लिए यूनिवर्सिटी को सवा दो लाख रुपए खर्च करने पड़ते थे. जिम्मेदारों की मानें तो आने वाले दिनों में यूनिवर्सिटी के सारे सामान इसी से खरीदे जाएंगे, जिससे यूनिवर्सिटी को काफी बचत होगी.

मंगलवार से शुरू हुई खरीदारी

गोरखपुर यूनिवर्सिटी में जेम का रजिस्ट्रेशन होने के बाद पहला ऑर्डर मंगलवार को दिया गया. इसमें यूनिवर्सिटी ने कागजों के रिम ऑर्डर किए हैं. फायनेंस ऑफिसर बीरेंद्र चौबे ने बताया कि यूनिवर्सिटी में काफी दिनों से रजिस्ट्रेशन प्रॉसेस चल रही थी, लेकिन कोई न कोई पेंच की वजह से मामला फंस जा रहा था. लेकिन पिछले हफ्ते रजिस्ट्रेशन कराने के बाद अब मंगलवार से खरीदारी की भी शुरुआत कर दी गई है.