गोरखपुर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर में दुकानों को ढहाने की अनुमति दी है। बता दें कि इस मंदिर के मुख्य पुजारी खुद सीएम योगी हैं। मंदिर परिसर में दुकानें सड़क के चौड़ी करने के काम में आ रही थीं जो मोहद्दीपुर की ओर जाती हैं। बता दें कि यातायात की कठिनाइयों को कम करने के लिए सड़क को 17 किलोमीटर लंबी चार- लेन सड़क में तब्दील किया जा रहा है।

दुकानोंदारों अपनी दुकान यहां लगा सकेंगे

मंदिर परिसर में स्थित लगभग दो दर्जन दुकानें सड़क के चौड़े होने में बाधा साबित हो रही थीं और इसलिए उन्हें गुरुवार को ढहा कर दिया गया था। जब सड़क चौड़ी करने का प्रस्ताव तैयार किया जा रहा था तब आदित्यनाथ ने रास्ते में आने वाली दुकानों को गिराने की अनुमति दे दी थी । मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से दुकानदारों के लिए वैकल्पिक आवास साबित करने के लिए कहा था ताकि उनकी कमाई पर प्रभाव न पड़े। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि इन दुकानदारों के लिए मंदिर परिसर की जमीन से सटे एक शॉपिंग कॉम्प्लेक्स बनाने का प्रस्ताव है।

जीडीए ने शाॅपिंग काॅम्पलेक्स बनने की अनुमति दी

एक अधिकारी ने कहा, 'उस शाॅपिंग काॅम्पलेक्स के नक्शे को गोरखपुर विकास प्राधिकरण (जीडीए) ने बनने की अनुमति देदी है।मुख्यमंत्री ने शहर के विकास के लिए दुकानों को गिराने की अनुमति देने में एक मिनट भी नहीं लिया। नई चार लेन की सड़क से यातायात में आसानी होगी।' गोरखनाथ मंदिर इस क्षेत्र के सबसे पूजनीय तीर्थस्थलों में से एक है और गोरक्षधाम का स्थान है।मंदिर में साल भर लाखों श्रद्धालु आते हैं।

Posted By: Vandana Sharma

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner