-डेलापीर चौराहा से मंडी समिति तक फुटपाथ पर फल वालों ने जमाया कब्जा

-कई बार कार्रवाई के बाद भी व्यापारी लगा लेते हैं दुकानें

बरेली: शहर की सड़कों पर कहीं भी पैदल चलने वालों के लिए जगह नहीं मिल पा रही है. कहीं मुख्य सड़कों पर फुटपाथ ही नहीं बनाए गए हैं तो कहीं फुटपाथ पर दुकानें सजी हैं. डेलापीर चौराहा से मंडी समिति तक की सड़क के फुटपाथ का भी यही हाल है. राइट टू पडेस्ट्रियन कैंपेन में आज हम आपको इसी रोड के फुटपाथ का हाल दिखा रहे हैं.

सुबह होते ही सजा लेते हैं दुकानें

चौराहा से लेकर मंडी समिति के पास तक सुबह होने के साथ ही फुटपाथ पर दर्जनों फल व्यापारी दुकानें लगा लेते हैं और देर शाम तक दुकानें सजी रहती हैं. इसके चलते लोगों को सड़क पर चलना पड़ता है.

होटल वालों का भी कब्जा

फल व्यापारियों के साथ ही सड़क किनारे कई होटल और ढाबे भी बना लिए गए हैं. कई ढाबों के बाहर लोगों के बैठने के लिए टेबल चेयर तक लगा दी गई गई हैं. यहां आने वाले लोग अपने वाहन सड़क पर ही खड़े कर देते हैं.

सड़क पर लगे हैं ठेले

फुटपाथ के साथ ही यहां सड़क पर भी फल व्यापारियों का कब्जा रहता है. ठेले सड़क पर खड़े करके दिनभर ये व्यापारी फल बेचते रहते हैं, लेकिन इन्हें हटाने की भी कोई सुध नहीं लेता है.

वाहन भी फुटपाथ पर

फल व्यापारियों के साथ ही फुटपाथ पर कई वाहन मैकेनिक ने भी कब्जा जमा रखा है. दिन भर यहां फुटपाथ पर ही वाहनों की रिपेयरिंग का काम चलता रहता है.

मंडी गेट पर पर भी कब्जा

फल और सब्जी लेकर आने वाले दर्जनों वाहन मंडी समिति के गेट के पास ही सड़क किनारे खड़े रहते हैं. इसके अलावा गेट के पास ही सड़क किनारे कई फल व्यापारियों ने दुकानें भी लगा रखी हैं. इससे यहां हादसे होने का खतरा भी बना रहता है.

पब्लिक भी अवेयर नहीं

फुटपाथ पर हो रहे अवैध कब्जों को लेकर शहर के लोग भी बढ़ावा दे रहे हैं. सस्ते फल मिलने के लालच में लोग सड़क किनारे खड़े ठेलों और फुटपाथ पर लगी दुकानों से फल खरीदने के लिए अपने वाहन भी सड़क पर खड़े कर देते हैं. इससे पैदल चलने वालों को सड़क पर चलने को मजबूर होना पड़ता है.

बार-बार हो जाते हैं कब्जे

डेलापीर चौराहा से पीलीभीत बाईपास रोड की सड़क और फुटपाथ पर लगी दुकानों के खिलाफ पीडब्ल्यूडी और नगर निगम की टीम ने कई बार अभियान चलाया, लेकिन यहां बार-बार अतिक्रमण करके दुकानें लगा ली जाती हैं.

बंजारों ने डाला डेरा

डेलापीर चौराहा के पास ही सड़क किनारे कुछ घूमंतू परिवार भी झोपड़ी बनाकर लंबे समय से रह रहे हैं. फुटपाथ पर चाकू, हंसिया आदि बनाने के साथ ही बेचने के लिए दुकानें भी लगा रखी हैं.

दिनभर फुटपाथ पर दुकानें लगी रहती हैं, चलने के लिए जगह ही नहीं है. पुलिस भी इस पर कोई कार्रवाई नहीं करती है.

-----

सड़क पर भी ठेले वालों ने कब्जा कर लिया है. अब लोग सड़क पर नहीं चलेंगे तो कहां चलेंगे. कोई देखने वाला ही नहीं है.

----

किसी से ठेला हटाने को कह दो तो लड़ने को आमादा हो जाता है. अधिकारी भी इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करते हैं.

---

फुटपाथ पर जो भी दुकानें लगी हैं सभी का सामान जब्त कर लेना चाहिए, तभी इस समस्या का समाधान हो सकता है.

----

डेलापीर रोड का अतिक्रमण हटाने के लिए कार्ययोजना बनाकर अभियान चलाया जाएगा. इसमें पीडल्यूडी का भी सहयोग लिया जाएगा.

ईश शक्ति सिंह, अपर नगर आयुक्त