- ऑनलाइन कोर्स के फ‌र्स्ट लेवल में शुरू किए गए हैं 260 कोर्सेज

- दूसरे लेवल में 1000 से अधिक कोर्सेज शुरू करने करने का है प्लैेन

- आईआईटी ने गूगल और नेसकॉम के साथ मिलकर स्टार्ट किया है कोर्स

patna@inext.co.in

PATNA (30 April):

अगर आप अच्छे इंस्टीट्यूट्स में पढ़ाई नहीं कर पा रहे हैं कि लेकिन वहां के टीचर्स के अनुभव और उनकी क्लास लेना चाहते है तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है. ऑनलाइन कोर्स के जरिए स्टूडेंट्स अब घर पर बैठकर भी बड़े- बड़े संस्थानों की पढ़ाई कर सकते है. सीबीएसई के साथ-साथ अब आईआईटी ने गूगल और नेसकॉम के साथ मिलकर बड़े पैमाने पर ऑनलाइन कोर्स शुरू किया है. इस कोर्स से करीब ब्0 लाख स्टूडेंट्स को फायदा होगा

एग्जाम भी होगा ऑनलाइन

स्टूडेंट्स को इस कोर्स को पूरा करने के बाद सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिए एक एग्जाम देना होगा जो ऑनलाइन ली जाएगी. इसके लिए जगह-जगह गेट एग्जाम की तरह ही केंद्र बनाए जाएंगे और इन केंद्रों पर एक साथ एग्जाम लिए जाएंगे. आईआईटी मुंबई इन ऑनलाइन कोर्सेज को जुलाई से स्टार्ट करने की तैयारी में लगा हुआ है.

घर बैठे करिए पढ़ाई

ऑनलाइन कोर्स शुरू करने का फायदा जितना बाहर के स्टूडेंट्स को होगा उतना ही फायदा दूसरी आईआईटी में पढ़ाई करने वाले स्टूडेंट्स को भी होगा. ऑनलाइन कोर्स से स्टूडेंट्स अच्छे प्रोफेसर्स के लेक्चर को सुन सकेंगे.

फ्क् मई से 8 जून तक होगा एग्जाम

इन ऑनलाइन कोर्सेज के लिए रेजिस्ट्रेशन हो चुका है. इन कोर्सेज का ऑनलाइन एग्जाम फ्क् मई और 8 जून को लिया जाएगा. ये सभी सर्टिफिकेट कोर्सेज क्0 वीक के होंगे और इस कोर्स को करने वाले स्टूडेंट्स हर वीक दो से तीन घंटे लेक्चर सुन सकेंगे.

ऑनलाइन कोर्स से करीब ब्0 लाख स्टूडेंट्स को फायदा होगा. इन कोर्सेज की वजह से पहले से चल रहे कोर्सेज पर किसी तरह का कोई नेगेटिव इफेक्ट नहीं पड़ेगा. अभी पहले फेज की तैयारी हुई है, इसके बाद हम आगे और भी कोर्सेज शुरू करेंगे.

डॉ. अनिल कुमार भौमिक, डायरेक्टर, आईआईटी पटना