-थाने व कचहरी के चक्कर लगाते हैं युवा

-उनका भविष्य किया जा रहा बर्बाद

फतेहाबाद. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने ग्रामीणों से कहा है कि छोटे-छोटे मामलों का निस्तारण घर में ही करें. उन्हें पुलिस तक न पहुंचने दें वरना युवा पीढ़ी इसमें उलझ कर रह जाएगी.

एसएसपी ने यहां शनिवार को प्रभारी निरीक्षक कार्यालय का शुभारंभ किया. उन्होंने कहा कि गांव के प्रधान व चौकीदार मिलकर अपराध रोक सकते हैं. एसएसपी ने प्रधानों व चौकीदारों से अपील की कि वे जमीनों के छोटे मामलों का निस्तारण ग्राम स्तर पर ही करा दें. तिवाहा, बादशाही बाग तथा कस्बे में पुलिस चौकियों को दुरुस्त कराने का आश्वासन दिया. नगर पंचायत अध्यक्ष आशादेवी चक, बबिता चौहान, सतीश तिवारी, डॉ. बृजेंद्र शर्मा, बालेश गुप्ता, राकेश गुप्ता, अजय शर्मा, बॉबी शर्मा, रमाकांत गुप्ता, बनवारी लाल वर्मा प्रधान, अंगद सिंह प्रधान, लाले गुप्ता, सुनील गुप्ता, सुभाष चंद्र आदि थे.

हिस्ट्रीशीटरों की करें खोज

एसएसपी ने प्रभारी निरीक्षक से लापता हिस्ट्रीशीटरों को खोजने की जानकारी मांगी और उन्हें खोजने के निर्देश दिए.

कारतूस कम मिलने पर नाराज

निरीक्षण के दौरान दौरान कारतूसों के कम होने पर नाराजगी जताई. माल मुंशी आदिराम से पूछताछ की तो उन्होंनेकहा कि अभी चार्ज पूरी तरह नहीं मिला है.

-----------------

लावारिस वाहनों का करें निस्तारण

एसएसपी बबलू कुमार ने थाना परिसर में खड़े लावारिस वाहन एवं माल मुकदमाती वाहनों के बारे जानकारी ली. उन्होंने निर्देश दिए कि लावारिस व मुकुदमाती वाहनों को अलग-अलग किया जाए. कहा कि लावारिस वाहनों के चैसिस नंबर व इंजन नबंर कंप्यूटर पर डालकर खोजे. पता चलने पर मालिक को सूचना दें. सात दिन में लावारिस वाहनों को पूरा डाटा निकाल कर कार्यवाही करने के प्रभारी निरीक्षक को आदेश दिए. थाने में कक्ष में गंदगी देखकर ऑपरेटर सिपाही को फटकार लगाई तथा क्षेत्राधिकारी प्रभात कुमार को 24 घंटे में सफाई का निरीक्षण कर फोटो सहित जानकारी देने को कहा.

चोरी का करें पर्दाफाश

गांव भरापुरा में मुकेश के यहां 24 सितंबर को लाखों रुपये के आभूषण व पैसे चोरी हो गए थे. तीन लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया था. ग्रामीणों एसएसपी से मुलाकात करके चोरी का खुलासा करने की मांग की है.