- टीईटी 2017 और 2018 की मार्कसीट लेने के लिए उमड़ी अभ्यर्थियों की भीड़

जिला शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थान यानी डायट में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा है। दरअसल 69 हजार सहायक अध्यापक भर्ती के लिए क्वालीफाई अभ्यर्थी टेट मार्कशीट लेने के लिए आ रहे हैं, पर वह मार्कशीट लेने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की परवाह नहीं कर रहे हैं और काउंटर पर भीड़ लगा रहे हैं, जबकि तमाम तरह की सावधानी को लेकर डायट प्राचार्य की ओर से भी आदेश दिया गया है। गौरतलब है कि 15 से 21 मई तक करीब 14000 टीईटी सफल अभ्यर्थियों को मार्कसीट बांटा जाना है।

69000 सहायक अध्यापक भर्ती में होनी है काउंसलिंग

सूबे के परिषदीय स्कूलों के सहायक अध्यापक पदों पर भर्ती के लिए लिखित परीक्षा में सफल हुए अभ्यर्थियों की काउंसलिंग होनी है।

ऐसे में टीचर्स एलिजबिलिटी टेस्ट यानी टेट की मार्कसीट भी काउंसलिंग के दौरान जरूरी होगी।

डायट परिसर में पिछले कई दिनों से लगातार अभ्यर्थी अपनी टेट 2017 और 2018 की मार्कसीट लेने के लिए पहुंच रहे है।

यहां पहुंच रहे अभ्यर्थियों से सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने के लिए कोई खास व्यवस्था नहीं की गई है। जिसके कारण कैंपस में पहुंच रहे अभ्यर्थी लगातार डायट में बने काउंटर पर भीड़ लगाए हुए है।

ऐसे में अगर कोई भी कोरोना संक्रमित अभ्यर्थी वहां पहुंचा तो बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों के संक्रमित होने का खतरा बना हुआ है।

अभ्यर्थी किसी की बात सुनने को तैयार नहीं

डायट के कार्यवाहक प्राचार्य संतोष मिश्रा ने बताया कि अभ्यर्थियों से सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने के लिए कैंपस के अंदर निर्धारित दूरी के आधार पर गोला भी बनावाया गया है, लेकिन उसके बाद भी अभ्यर्थी किसी की बात सुनने के लिए तैयार नहीं है।

- अभ्यर्थियों से लगातार सोशल डिस्टेसिंग को फॉलो करने के लिए कहा जा रहा है। मना करने पर हंगामा शुरू कर दे रहे हैं। सुरक्षा के लिए भी सिविल लाइंस थाने को पत्र भेजा गया है। लेकिन कोई भी डायट परिसर में नहीं आया है।

संतोष मिश्रा

प्रभारी प्राचार्य, डायट

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner