नई दिल्ली (आईएएनएस)। महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के लिए 10 दिनों से भी कम समय बचा है। सभी पार्टियां युद्ध स्तर पर प्रचार कर रही हैं। ऐसे में यहां कांग्रेस के कैडर को मजबूत करने के लिए कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और एनसीपी प्रमुख शरद पवार की संयुक्त रैली पर विचार कर रही हैं। दोनों नेता यहां एक साथ मंच साझा कर सकते हैं।

राहुल गांधी यहां पर तीन भव्य रैलियों को संबोधित करेंगे

वहीं पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी रविवार को अपने प्रचार अभियान की शुरुआत करने जा रहे हैं। राहुल यहां पर तीन भव्य रैलियों को संबोधित करेंगे। इनमें दो रैलियां मुंबई में और एक लातूर में होगी। कांग्रेस के मीडिया प्रभारी ने कहा कि सोनिया-पवार की संयुक्त रैली की तारीख और स्थल पर काम किया जा रहा है। इसे जल्द ही अंतिम रूप दिया जा सकता है।

इससे पहले अप्रैल 2014 में भंडारा में की थी संयुक्त रैली

वहीं इससे पहले की बात करें तो कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने इससे पहले अप्रैल 2014 में भंडारा में संयुक्त रैली की थी। सोनिया गांधी की तबियत बीते कई सालों से ठीक नहीं चल रही हैं। शायद इसीलिए वह केवल चुनावी अभियानों में ही पहुंचती हैं। हालांकि, पार्टी उनका नाम हमेशा स्टार प्रचारकों  की सूची में रखती है।

कांग्रेस की बीजेपी और शिवसेना के गठबंधन से टक्कर

हाल ही में आम चुनावों में हुए मतदान में उलटफेर के बाद कांग्रेस पार्टी को हरियाणा और महराष्ट्र दोनों में कड़ी लड़ाई का सामना करना पड़ रहा है। महाराष्ट्र में कांग्रेस को बीजेपी और शिवसेना के गठबंधन से टक्कर मिल रही है। इस बार कांग्रेस की ओर से दो पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण भोकर से और पृथ्वीराज चव्हाण दक्षिण कराड से इस चुनावी मैदान में उतरे हैं।

Posted By: Shweta Mishra